न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दहेज के लिए शौहर ने किया अप्राकृतिक यौनाचार, फिर बीवी को फोन पर दिया तीन तलाक

566

Ranchi: रांची के पिठोरिया इलाके की रहने वाली एक विवाहिता को उसके शौहर ने फोन पर तीन तालाक दे दिया. इस मामले में सोमवार को पीड़िता एएसपी अमित रेनू के पास पहुंची और न्‍याय के लिए गुहार लगाई है. पीड़िता ने अपने पति और ससुराल वालों पर कई गंभीर आरोप भी लगाये हैं. पीड़िता ने अपने पति पर दहेज के लिए शोषण व हिंसा, अप्राकृतिक यौनाचार, गर्भपात जैसे कई गंभीर आरोप लगाये हैं.

पीड़िता ने बताया कि मेरी शादी पिठोरिया के रहने वाले सफदर सुल्तान उर्फ सद्दाम के साथ 2015 में मुस्लिम रीति रिवाज से हुई थी. शुरूआत में 3 महीने तक वैवाहिक जीवन बड़ा ही सकून से बीता. उसके बाद पति सफदर ने मुझे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. वह मेरे परिजनों से 15 लाख रुपए की मांग करने लगे. जब मेरे परिजनों ने पैसे देने में  अपनी असमर्थता जतायी, तो पति मेरे साथ मारपीट करना शुरू कर दिया.

इसे भी पढ़ें: धनबाद जेल : जब बॉस ने जेल गेट पर बुलाया, तो पहुंचो, नहीं तो जान से हाथ धो लो…

hosp1

अप्राकृतिक यौनाचार कर किया प्रताड़ित

पीड़िता ने बताया कि रात के समय मेरे पति साथ जबरन अप्राकृतिक यौनाचार करने लगे. कई बार पति ने जबरदस्ती अप्राकृतिक संबंध बनाकर मुझे बहुत परेशान किया और कहा अगर तुम्हारे घर वाले पैसे नहीं देंगे तो तुम्हारे साथ यही सब किया जाएगा. जब मैंने इसका विरोध करना शुरू किया तो मेरे साथ मारपीट की गयी. मारपीट में मेरे ससुर मजीद अंसारी भी पति का सहयोग किया करते थे. यहां तक कि‍ कई बार ससुर ने भी मेरे साथ गलत हरकत की.

इसे भी पढ़ें :CM का विभाग : 441.22 करोड़ का घोटाला, अफसरों ने गटका अचार और पत्तों का भी पैसा

जबरदस्ती गर्भपात करवाया 

पीड़िता ने बताया कि मैं करीब 4 महीने की गर्भवती थी. जब इसका पता ससुराल वालों को चला तो सास ने मेरे पति  को मेरा गर्भपात कराने को बोला. इसके बाद जबरदस्ती मेरे पति ने कांके के  रोहिणी-मोहनी अस्पताल ले जाकर मेरा गर्भपात करवा दिया. गर्भपात के बाद मेरे ससुराल वालों ने मुझे जबरदस्ती मेरे मायके पहुंचा दिया. इसके बाद मैं पति से फोन पर संपर्क करने की कोशिश करती रही ताकि वह मुझे वापस ससुराल ले चले. लेकिन, वह हमेशा इनकार करते रहे. इस बीच कई बार मेरे परिजनों ने पंचायत बिठाकर मामले को सुलझाने का प्रयास किया, लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ.

इसे भी पढ़ें: मरीज की हालत होती रही खराब, अस्पताल बनाता रहा बिल, लापरवाही ने ली जान

दूसरी शादी की तैयारी का पता चला, तो फोन पर दे दिया तालाक

पीड़िता ने बताया कि इसी बीच जानकारी मिली कि पति की दूसरी शादी की तैयारी की जा रही है. तब मैंने अपने पति को फोन किया और उसे शादी करने से मना किया. लेकिन, उसने फोन पर ही तीन तलाक दे दिया.

थाने से कोई कार्रवाई नहीं हुई 

इसके बाद पीड़िता ने अपने परिजनों के साथ पिछले महीने की 21 सितंबर को रांची के पिठोरिया थाना में अपने पति और ससुराल वालों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया. लेकिन, थाना स्तर से इस मामले को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की गयी. उसके बाद बाद पीड़िता सोमवार को रांची के सीनियर एसपी से मिलने पहुंची. सीनियर एसपी किसी मीटिंग में व्यस्त थे. इसलिए पीड़िता को हेड क्वार्टर एएसपी (एक) अमित रेनू के पास भेज दिया गया. जहां से उसे इस मामले में इंसाफ दिलाने की भरोसा दिया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: