न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रदूषण नियंत्रण मानकों का पालन करें फैक्ट्री मालिक, वरना होगी कार्रवाई : मनोज यादव

विधानसभा पर्यावरण समिति ने किया औद्योगिक क्षेत्र का निरीक्षण.

158

Giridih : झारखंड विधानसभा की पर्यावरण व प्रदूषण नियंत्रण समिति की टीम चेयरमैन बरही विधायक मनोज यादव के नेतृत्व में गिरिडीह पहुंची. टीम ने सोमवार को प्रदूषण को लेकर गिरिडीह सदर अस्पताल, नर्सिंग होम और औद्योगिक क्षेत्र में स्थित कई फैक्ट्रियों की जांच की. टीम में समिति के सदस्य मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल भी शामिल थे.

इसे भी पढ़ें : नैक ग्रेडिंग वाला झारखंड का पहला निजी विवि बना जेआरयू

सभी निजी नर्सिंग होम को एनओसी लेना जरूरी

समिति की टीम ने सर्किट हाउस में सिविल सर्जन, एसडीओ, फैक्ट्री इंस्पेक्टर और अन्य पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. इसी क्रम में सिविल सर्जन डॉ रामरेखा प्रसाद से सरकारी और निजी अस्पतालों में मेडिकल वेस्ट डिस्पोजल की स्थिति की जानकारी ली और इसके सुचारू संचालन से संबंधित कई दिशा निर्देश दिए. समिति सदस्यों ने सीएस को निर्देश दिया कि प्रदूषण नियंत्रण समिति के एनओसी के बगैर चल रहे निजी क्लीनिकों की सूची बनाकर उन्हें नोटिस करें. बाद में समिति सदस्यों ने इंडस्ट्रीयल एरिया जाकर कई लौह फैक्ट्रियों का निरीक्षण किया और प्रदूषण नियंत्रण के मानकों के सही पालन करने की हिदायत फैक्ट्री मालिकों को दी.

इसे भी पढ़ें : CM का विभाग : 441.22 करोड़ का घोटाला, अफसरों ने गटका अचार और पत्तों का भी पैसा

प्रदूषण फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई

विधानसभा पर्यावरण व प्रदूषण नियंत्रण समिति के सभापति मनोज यादव ने कहा कि राज्य को पूरी तरह प्रदूषण मुक्त बनाना है. इसके लिए सभी को सहयोग करना होगा. औद्योगिक इकाईयां सबसे अधिक प्रदूषण फैलाती हैं. उन्होंने कहा कि जो भी फैक्ट्री, संस्थान या उद्योग प्रदूषण नियंत्रण मानकों का पालन नहीं करेगा, समिति उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी. समिति के सदस्य मांडू विधायक जयप्रकाश पटेल ने कहा कि समिति के सदस्य विभिन्न जिलों में पर्यावरण स्थिति का निरीक्षण करने निकले हैं. इसके तहत सराईकेला-खरसावां, चाईबासा, रामगढ़, कोडरमा, हजारीबाग होते हुए समिति के सदस्य गिरिडीह पहुंचे हैं. इसके बाद वे देवघर जाएंगे.

इसे भी पढ़ें : 8 अरब की वन भूमि निजी और सार्वजनिक कंपनियों के हवाले, फिर भी प्रोजेक्ट पूरे नहीं 

उन्होंने कहा कि इस निरीक्षण में प्रदूषण फैलाने वाली इकाईयों की विशेष रूप से जांच की जा रही है, ताकि रिपोर्ट बनाकर उनपर कार्रवाई की जा सके. झामुमो के वरिष्ठ नेता सुदिव्य कुमार सोनू ने समिति के सदस्यों से मुलाकात कर उन्हें प्रदूषण की कई समस्याओं से अवगत कराया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: