GumlaJharkhandLead NewsNEWSRanchi

ठाकुरगांव, बुंडू सहित पांच ग्राम बनेंगे स्मार्ट, डीपीआर हो रहा तैयार

Ranchi:  राज्य में मुख्यमंत्री स्मार्ट ग्राम योजना के तहत पांच गांवों को स्मार्ट बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी है. ग्रामीण विकास विभाग की ओर से चयनित पांच ग्राम पंचायतों के डेवपलमेंट के लिए अविलंब डीपीआर तैयार करने को कहा गया है. मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी ने संबंधित जिलों के पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि अविलंब उपायुक्त के माध्यम से योजना का डीपीआर तैयार करके भेजे. शिवराजपुर, ठाकुरगांव, बुंडू, चेनारो आदि गांवों का चयन सीएम स्मार्ट ग्राम योजना के तहत किया गया है.

Advt

इसे भी पढ़ेंःहो रही थी गरीबों के राशन की हकमारी, अब 55 हजार लोगों ने किया कार्ड सरेंडर

गुमला,रांची उपायुक्त को अविलंब इस संबंध में प्रस्ताव तैयार करके देने को कहा गया है. बता दें कि 2016 में राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री स्मार्ट ग्राम योजना प्रारंभ किया था,पर इस पर कुछ काम नहीं हो सका. अब फिर से इस पर काम करने की कवायद प्रारंभ हुई है. इस योजना के तहत चयनित ग्राम में पांच करोड़ तक की राशि वित्तीय वर्ष खर्च की जानी है. गांवों के विकास अथवा आजीविका का स्तर शहरों की तुलना में पीछे है इसी अवधारणा को देखते सीएम स्मार्ट ग्राम योजना से बुनियादी ढांचे में विकास करना था.

ये मुख्य काम

ग्राम पंचायतों के माध्यम से अच्छा स्थानीय स्वशासन.

खाना पकाना सहित उर्जा क्षेत्र में स्वनिर्भरता एवं स्मार्ट ग्रिड का विकास.

ग्रामीण उद्यमियों द्वारा स्थानीय खपत के अतिरिक्त देश एवं दुनिया के बाजारों में उत्पादन एवं विपणन.

ग्रामीण युवा एवं विद्यार्थियों के लिए तकनीकी के सहारे शैक्षणिक सुविधा उपलब्ण कराना. पुस्तकालय इत्यादि.

बेहतर स्वास्थ्य, सामाजिक सेवाएं,कृषि उत्पादन प्रणालियों,जलवायु परिवर्तन के कारण उत्पन्न स्थिति से निपटने, रोजगार,कौशल विकास,प्रौद्योगिकी का विकास सहित अन्य कार्य करके गांवों को स्मार्ट बनाना है.

Advt

Related Articles

Back to top button