Crime NewsTOP SLIDER

व्यवसायियों से रंगदारी मांगनेवाले पीएलएफआइ के पांच नक्सली गिरफ्तार, देसी कट्टा, कार्बाइन सहित कई हथियार बरामद

Ranchi : रांची जिला में पीएलएफआइ सुप्रीमो दिनेश गोप और अवधेश जायसवाल की ओर से व्हॉट्सएप कॉल कर व्यवसायियों से रंगदारी मांगी जा रही है. इसी क्रम में 13 नवंबर को धुर्वा के एक टेंट व्यवसायी के घर पर गोली चलने की घटना हुई.

इसके बाद एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा को सूचना मिली की पीएलएफआइ के एरिया कमांडर तुलसी पाहन और उसके कुछ साथी खेलगांव में किसी घटना को अंजाम देने के लिए जुटे हुए हैं. एसएसपी की ओर से टीम का गठन कर छापामारी की गयी. जिसमें एरिया कमांडर तुलसी पाहन सहित पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया गया.

इसे भी पढ़ें: गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा का निधन, पीएम सहित कई नेताओं ने शोक जताया

advt

दिनेश गोप से भी मिला था तुलसी पाहन

अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद प्रेस कांफ्रेंस में एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि अपराधियों के साथ कई तरह के हथियार बरामद किये गये हैं. वहीं एरिया कमांडर तुलसी पाहन अपने सहयोगियों के साथ दो बार खूंटी के जंगलों में दिनेश गोप और अवधेश जायसवाल से मिला भी है. इन गिरफ्तार अपराधियों को दिनेश गोप की ओर से ही ये हथियार दिये गये थे.

उन्होंने बताया कि पीएलएफआइ रांची जिला में विभिन्न कैडर बना कर व्यवसायियों से रंगदारी वसूलने की तैयारी में हैं. एसएसपी ने बताया कि 13 नवंबर को दिनेश गोप और अवधेश जायसवाल के कहने पर ही धुर्वा के टेंट व्यवसायी के घर पर गोली चलायी गयी थी.

adv

एरिया कमांडर तुलसी पाहन की निशानदेही पर राकेश कुमार दास, बबलू करमाली, प्रदीप गाड़ी और राजन मुंडा को गिरफ्तार किया गया. इनके पास से तीन देशी कट्टा, 7.65 एमएम का तीन जिंदा कारतूस, पिस्टल का खाली मैग्जीन, मोबाइल, कार्बाइन सहित कई अन्य सामान बरामद किये गये.

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा रोकने पर मनोज तिवारी ने केजरीवाल को कहे अपशब्द

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: