Crime NewsJharkhandLead NewsRanchi

बस में सवार होकर हत्या करने रांची से रनिया जा रहे पांच उग्रवादी गिरफ्तार

Ranchi : हत्या की योजना को अमली जामा पहनाने के उद्देश्य से रांची से बस में सवार होकर रनिया जा रहे 5 उग्रवादियों को पुलिस ने धर दबोचा. गिरफ्तार उग्रवादियों के पास ने एक देसी कट्टा, जिंदा कारतूस, पीएलएफआइ का पर्चा, पांच मोबाइल जब्त किये गये हैं. गिरफ्तार उग्रवादियों में रांची सिकिदरी थाना क्षेत्र का आगरटोली निवासी अर्जुन मुंडा, गुमला जिला के बसिया थाना क्षेत्र का लाबाकेरा निवासी मुकेश चीक बड़ाईक, सिमडेगा जिला के बानो थाना क्षेत्र का बिरता निवासी सुरेंद्र बड़ाईक, रांची अनगड़ा थाना क्षेत्र का बुकी बल्लौटा निवासी पंकज महतो और चाईबासा जिले आनंदपुर थाना क्षेत्र का सौदा उपरटोली निवासी माईकल गुड़िया के नाम शामिल हैं. आरोपी अर्जुन मुंडा की गिरफ्तारी तोरपा के पास स्थित चुरकी नदी के पास बस में छापेमारी कर की गयी है. अर्जुन मुंडा ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि पीएलएफआइ उग्रवादी माईकल गुड़िया और मुकेश चीक बड़ाईक और पंकज महतो के साथ मिल कर आनंदपुर क्षेत्र में जमीन विवाद में पैसे को लेकर हत्या की योजना बनायी गयी थी. जिसे अंजाम देने के लिए रांची से रनिया जा रहे थे. जहां अन्य साथी मुकेश और पंकज इंतजार कर रहे थे. रांची से आने जाने के लिए खर्चा-पानी सुरेंद्र चीक बड़ाईक द्वारा दिया गया था. घटना की जानकारी देते हुए खूंटी के प्रभारी एसपी नौशाद आलम ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि पीएलएफआइ के सक्रिय सदस्य किसी घटना को अंजाम देने हथियार के साथ रांची से रनिया जा रहे हैं. सूचना पर तोरपा एसडीपीओ के नेतृत्व में छापेमारी कर चुरकी नदी के पास से अर्जुन मुंडा को गिरफ्तार किया गया. आरोपी के पास से देसी कट्टा बरामद किया गया. अर्जुन की निशानदेही पर रनिया थाना क्षेत्र से मुकेश चीक बड़ाईक पंकज महतो, सुरेंद्र बड़ाईक, माईकल गुड़िया को गिरफ्तार किया गया.

मुकेश चीक बड़ाईक पर दर्ज हैं आधा दर्जन से अधिक मामले

गिरफ्तार पीएलएफआइ उग्रवादी मुकेश चीक बड़ाईक पर गुमला में आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं. इसके अलावे माईकल गुड़िया का भी आपराधिक इतिहास रहा है. आरोपी चाईबासा में जेल जा चुका है.

इसे भी पढ़ें – बाबूलाल मरांडी के दलबदल मामले में विधानसभा की ओर से बहस पूरी, 13 दिसंबर को दीपिका पांडे सिंह की ओर से होगी बहस

Related Articles

Back to top button