Crime NewsDhanbad

छह महीने में पांच बड़ी वारदातेंः CCTV में कैद अपराधी की तस्वीर, फिर भी कार्रवाई नहीं

Bidut Verma

Dhanbad: धनबाद को झारखंड की आर्थिक राजधानी कही जाती है. इस आर्थिक राजधानी में छह माह में लूट की पांच बड़ी घटनाएं हुईं. इन घटनाओं को अंजाम देने वालों के चेहरे सीसीटीवी में कैद भी हुए, लेकिन पुलिस इनकी गिरफ्तारी अभी तक नहीं कर पायी है.

वारदात के तुरंत बाद ही पुलिस जांच शुरू कर देती है. सीसीटीवी फुटेज खंगाले जाते हैं. लोगों को लगता है कि पुलिस जल्द ही अपराधियों को पकड़ लेगी, लेकिन होता कुछ नहीं. कुछ दिनों बाद लोग इस घटना भूलने लगते हैं और जिले में फिर कोई वारदात हो जाती है.

इसे भी पढ़ेंःविधायक जीतू चरण राम समेत अन्य पर जिप उपाध्यक्ष ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप

पिछले छह माह में लूट और डकैती की पांच बड़ी वारदातें हुई है, लेकिन पुलिस एक घटना का भी खुलासा नहीं कर पायी है. जिले के एसएसपी हर मामले में रटा-रटाया जवाब ही देते हैं कि मामले की जांच चल रही है. दोषियों के खिलाफ जल्द ही कार्रवाई होगी.

केस स्टडी- 1

13 मार्च को बैंक ऑफ इंडिया के कोला कुसमा ब्रांच में ग्राहक बनकर आये डकैतों ने हथियार के बल पर दस लाख रुपये लूट लिये. इसमें पांच अपराधियों के चेहरे सीसीटीवी में स्पष्ट नजर आये. बावजूद इसके अब तक अपराधियों को पकड़ा नहीं जा सका है.

केस स्टडी- 2

3 अप्रैल को शहर के लुबी सर्कुलर रोड के पास कारोबारी जैन बंधुओं के घर में डकैती हुई. अपराधियों ने पूरे परिवार को बंधक बनाकर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया. पुलिस ने यह दावा किया कि अपराधियों के चेहरे स्टेशन के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गये हैं. बावजूद इसके एक भी अपराधी अभी तक पकड़ा नहीं गया है.

इसे भी पढ़ेंःLIC की जमापूंजी भी लुटने की कगार पर, ढाई माह में हुआ 57000 करोड़ का नुकसान

केस स्टडी- 3

बैंक मोड़ शहर के कारोबार का एक महत्वपूर्ण केंद्र है. 23 अप्रैल को तनिष्क ज्वेलरी शोरूम से 2.68 लाख रुपये के जेवरात अपराधी ले उड़े. घटना को दिनदहाड़े अंजाम दिया गया. सीसीटीवी फुटेज में एक संदिग्ध का चेहरा स्पष्ट नजर आया, लेकिन इसकी गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो सकी है.

केस स्टडी- 4

23 जुलाई को सरायढेला के वीर कुंवर सिंह कॉलोनी में जमीन कारोबारी समीर मंडल की हत्या सरेशाम कर दी गयी. अपराधियों ने उन्हें उनके घर के समीप ही गोलियों से भून डाला. वहां भी सीसीटीवी फुटेज में घर के बाहर बाइक पर सवार दो अपराधी नजर आये. उनके चेहरे ढंके हुए थे. पुलिस आज तक इन अपराधियों को नहीं ढूंढ़ पायी है.

केस स्टडी- 5

3 सितंबर को शहर की हृदय स्थली बैंक मोड़ स्थित एचडीएफसी बैंक में कलेक्शन एजेंट से 25 लाख रुपये की चोरी हो गयी. सीसीटीवी फुटेज में अपराधी का चेहरा बिल्कुल साफ नजर आ रहा है. लेकिन पुलिस इसे अभी तक पकड़ पाने में नाकाम रही है.

इसे भी पढ़ेंः13 महीनों के वेतन पर खुलकर बोल रहे हैं जवान, पढ़ें क्या कह रहे हैं

Related Articles

Back to top button