Corona_UpdatesNational

दिल्ली में आज से शुरू होगा पांच दिवसीय सीरो सर्वे, 150 टीम 11 जिलों से लेगी करीब 15 हजार सैंपल

New Delhi: राष्ट्रीय राजधानी में सीरो-सर्वे का अगला चरण शनिवार यानी आज से शुरू हो रहा है. दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति का विस्तारपूर्वक विश्लेषण करने के लिए पांच दिनों के इस सर्वेक्षण की शुरूआत की जा रही है. इश दौरान 150 टीम 11 जिलों में सैंपल इक्ट्ठा करेगी. करीब 15 हजार लोगों के सैंपल लिये जायेंगे.

 

याद दिला दें कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने 22 जुलाई को घोषणा की थी कि पिछले सर्वेक्षण के नतीजों का विश्लेषण करने के बाद यह फैसला किया गया है कि हर महीने ऐसे और सर्वेक्षण कराए जाएंगे ताकि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 की स्थिति से निपटने के लिए बेहतर नीतियां बनाई जा सके.

इसे भी पढ़ेंःगोरक्षा के नाम पर तांडवः 8 किमी तक पीछा कर शख्स को हथौड़े से मारा, तमाशबीन बनी रही पुलिस!

ram janam hospital
Catalyst IAS

पांच अगस्त तक चलेगा सीरो सर्वे

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

सीरो सर्वे की जानकारी देते हुए अधिकारियों ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने एक विस्तृत योजना बनाई है जिसके तहत हर जिले के चिकित्सा अधिकारी को अपने-अपने अधिकार क्षेत्रों में सर्वेक्षण कराने के लिए कहा गया है.
दिल्ली सरकार ने इससे पहले राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) के साथ मिलकर 27 जून से 10 जुलाई तक सीरो-सर्वे कराया था.

केंद्र सरकार ने बताया कि अध्ययन में यह पाया गया था कि दिल्ली में जिन लोगों का सर्वेक्षण किया गया उनमें से 23 प्रतिशत लोग कोरोना वायरस के संपर्क में आए. इसे लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि आंकड़े यह दिखाते हैं कि करीब एक चौथाई लोगों में एंटीबॉडीज बन गए जिसका मतलब है कि वे संक्रमित हुए थे और स्वस्थ हो गए. इनमें से ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं था कि वे संक्रमित हो चुके हैं.

बता दें कि सीरो-सर्वे में संक्रमण के खिलाफ एंटीबॉडीज मौजूद होने की जांच करने के लिए लोगों के ब्लड सीरम की जांच की जाती है.

इसे भी पढ़ेंःकम दर में जमशेदपुर के उपभोक्ताओं को मिले बिजली, TSL ने बनायी सोलर प्लांट लगाने की योजना

150 टीम इकट्ठा करेगी 15 हजार सैंपल

एक अगस्त से पांच अगस्त तक चलने वाले इस सर्वे में स्वास्थ्य विभाग की करीब 150 टीम राज्य के 11 जिलों में सर्वेक्षण करेगी. तकरीबन 15 हजार लोगों के सैंपल इकट्ठा किये जायेंगे. इन सैंपल में 25 प्रतिशत 18 साल से कम उम्र वालों के होंगे. जबकि 50 फीसद सैंपल 18-49 आयु वर्ग के और बाकी के 25 प्रतिशत सैंपल 50 साल से अधिक उम्र वालों के होंगे. रोजाना करीब 25-40 सैंपल एक टीम की ओर से लिये जायेंगे. वहीं राज्य के 18 लैब में इनकी जांच होगी.

इसे भी पढ़ेंःCoronaUpdate: फिर टूटा संक्रमण का रिकॉर्ड, एक दिन में 57 हजार से अधिक नये केस

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button