National

कश्मीर में अपना चॉपर MI-17V5 मार गिराने वाले  वायुसेना  के पांच अधिकारी दोषी करार

NewDelhi : भारतीय वायुसेना अपने ही हेलिकॉप्टर पर फायरिंग करने के मामले में दोषी पाये गये पांच अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. जान लें कि ये अधिकारी 27 फरवरी को श्रीनगर में अपने ही हेलिकॉप्टर पर फायरिंग करने के मामले में दोषी माने गये हैं. यह घटना उस समय हुई थी, जब बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी लड़ाकू विमान भारत में घुसे थे.

इस दौरान पश्चिमी वायु कमान प्रमुख एयर मार्शल हरि कुमार ऑपरेशन का नेतृत्व कर रहे थे. सरकारी सूत्रों  के अनुसार जिन पांच अधिकारियों को जांच में दोषी पाया गया है, उन पर  आगे की कार्रवाई के लिए रिपोर्ट वायुसेना मुख्यालय को भेज दी गयी  है.

दोषी अधिकारियों में एक ग्रुप कैप्टन, दो विंग कमांडर और दो फ्लाइट लेफ्टिनेंट शामिल

जानकारी के अनुसार दोषी अधिकारियों में एक ग्रुप कैप्टन, दो विंग कमांडर और दो फ्लाइट लेफ्टिनेंट शामिल हैं. 27 फरवरी को घटना होने के बाद वायु सेना ने तुरंत  जांच शुरू की. वायु सेना ने मृत कर्मियों के परिवारों को आश्वासन दिया था कि सभी दोषियों को सजा दी जायेगी.

जम्मू कश्मीर के बडगाम से सात किलोमीटर दूर गारेंद गांव में 27 फरवरी को एक चॉपर MI-17V5 क्रैश हो गया था. चॉपर खेत में जाकर गिरा और इसमें आग लग गयी. हादसे की वजह उस समय साफ नहीं हो पायी थी. उस हादसे में दो पायलट शहीद हो गये थे.  इस चॉपर ने श्रीनगर एयरबेस से उड़ान भरी थी.

इसे भी पढ़ें-  200 दिनों से 4,500 करोड़ रुपये बकाया नहीं चुकाने पर रांची सहित छह एयरपोर्ट पर एयर इंडिया के विमानों को फ्यूल सप्लाई बंद

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: