न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

NEWS WING IMPACT: वाहनों के फिटनेस सर्टिफिकेट में अब एमवीआइ के हस्ताक्षर की जरूरत नहीं  

36
  • ओरमांझी फिटनेस सेंटर की ओर से जारी सर्टिफिकेट ही सभी जगह मान्य होंगे
  • न्यूज विंग ने पांच दिसंबर को खबर प्रकाशित की थी कि एक लाख वाहनों को कैसे साल भर में मिलेगा फिटनेस सर्टिफिकेट

Ranchi: झारखंड सरकार के परिवहन विभाग ने ओरमांझी के स्वचालित फिटनेस केंद्र से अधिक फिटनेस सर्टिफिकेट जारी करने का आदेश जारी किया है. गौरतलब है कि टीयूभी-एसयूडी साउथ एशिया सेंटर कंपनी ही व्यावसायिक वाहनों के फिटनेस सर्टिफिकेट जारी करेगी. यहां से जारी होनेवाले सर्टिफिकेट पर अब मोटर वेहीकल इंस्पेक्टर (एमवीआइ) का काउंटर साइन (प्रति हस्ताक्षर) जरूरी नहीं होगा. ऐसा इसलिए किया गया है, क्योंकि केंद्र में प्रत्येक दिन एक सौ से अधिक व्यावसायिक वाहन प्रमाण पत्र के लिए आ रहे हैं. इसे देखते हुए संयुक्त परिवहन आयुक्त ने रांची के मोटर वेहीकल इंस्पेक्टर को 14.12.2018 को पत्र लिख कर कहा है कि केंद्र द्वारा जारी प्रमाण पत्र सभी जगह मान्य होंगे. फिटनेस प्रमाण पत्र के लिए राज्य सरकार द्वारा तय शुल्क पूर्व की तरह ई-ग्रास के माध्यम से ऑनलाइन लिये जायेंगे. टीयूभी-एसयूडी साउथ एशिया अपने स्तर से वाहनों की जांच करेगी और अहर्ता रखनेवाले वाहनों को सर्टिफिकेट जारी करेगी. फिटनेस सेंटर के कार्यकलापों की समीक्षा के बाद यह फैसला लिया गया है.

न्यूज विंग  की तरफ से पांच दिसंबर को प्रकाशित की गयी थी खबर

न्यूज विंग  की तरफ से पांच दिसंबर को यह खबर प्रकाशित की गयी थी कि राजधानी के एक लाख से अधिक व्यावसायिक वाहनों का फिटनेस सेंटर एक वर्ष में कैसे निर्गत किया जा सकेगा. न्यूजविंग की तरफ से यह कहा गया था कि 38 हजार वार्षिक क्षमता वाले टेस्टिंग सेंटर में प्रत्येक दिन 267 वाहनों को सर्टिफिकेट दिये जाने से यह टार्गेट पूरा हो पायेगा. सरकार द्वारा व्यावसायिक वाहनों के फिटनेस सर्टिफिकेट को लेकर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशनों ने काफी विरोध भी किया था.

इसे भी पढ़ेंः 48 घंटे में काम पर लौटें राजस्वकर्मी, नहीं तो स्वतः निलंबित समझा जायेगा : सरायकेला-खरसावां उपायुक्त

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: