DeogharJharkhandSports

फिट इंडिया ने दी अशीहारा कराटे फेडरेशन इंडिया को मान्यता

सदस्यों व खिलाड़ियों में खुशी का माहौल

Deoghar: केंद्रीय युवा एवं खेल मंत्रालय की तरफ से आशीहारा कराटे फेडरेशन इंडिया को फिट इंडिया के अंतर्गत मान्यता प्रदान की गई है. सरकार के इस फैसले से फेडरेशन के खिलाड़ियों में काफी उत्साह देखा जा रहा है.

इस बाबत फेडरेशन के झारखंड चीफ सेंसइ चंदन भार्गव व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी साहिल भौमिक ने देते हुए जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 में फिट इंडिया अभियान की शुरुआत की थी.

advt

आशीहारा कराटे 25 वर्षों से खिलाड़ियों को आत्मरक्षा के प्रति प्रेरित कर रही है. आशिहारा कराटे फेडरेशन ने हमेशा सभी खिलाड़ियों की कला को सराहा है. राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कराटे की प्रतियोगिता आयोजित किया गया है. फेडरेशन का लक्ष्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देना है.

सरकार के इस निर्णय से बहुत खुशी है और आने वाले समय में कराटे गेम और प्रतियोगिता को उच्च स्तर पर देवघर में करवाया जाएगा.

फेडरेशन से जुड़े विद्यार्थियों में लखन शर्मा, शंकर मिस्त्री, आयुष कुमार, लता मिश्र, शालु चौधरी, अभिषेक कुमार, साक्षी कुमारी, आरूषी कुमारी, अक्षीता कुमारी ने खुशी व्यक्त करते हुए सरकार के प्रति आभार जताया है.

इसे भी पढ़ें :रघुवर ने उठायी छठी जेपीएससी परीक्षा की सीबीआइ जांच की मांग

पीएम के विद्यार्थियों व खिलाड़ियों के हित की चिंता का परिणाम है फिट इंडियाः खवाड़े

आशीहारा कराटे फेडरेशन के संरक्षक चंद्रशेखर खवाड़े ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार हमेशा से विद्यार्थियों और खिलाड़ियों के हित में योजनाएं लाती रही है. समाज के युवा वर्ग के लिए हमेशा चिंतन कर समाज के युवा वर्ग को आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रयत्नशील रहती है.

फिट इंडिया कार्यक्रम मोदी के इन्हीं चिंतनओं का एक परिणाम है, जिसके तहत आज आशिहारा कराटे फेडरेशन को फिट इंडिया की मान्यता मिली है. इसमें मुख्य रूप से सेंसइ चंदन भार्गव व सेंसइ प्रभाकर का काफी योगदान रहा है. मैं कराटे फेडरेशन के सभी पदाधिकारियों एवं खिलाड़ियों इसके लिए बधाई देता हूं.

साथ ही फेडरेशन के शिक्षकों (सेंसइ) से आग्रह करता हूं कि अब आपका दायित्व और बढ़ गया है. इस हेतु आप और अधिक प्रयास करें.

इसे भी पढ़ें :पलामू में लॉकडाउन की पाबंदियों के बावजूद बिके 4000 से अधिक वाहन, परिवहन विभाग ने मांगा ब्योरा

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: