न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

FIT रहने के लिए नहीं है जिम जाने या योग करने की जरूरत…..

औसत गति से चलने से दिल संबंधी बीमारियों की मृत्युदर में 21 फीसदी की कमी आ जाती है और तेज गति से चलने वालों की मृत्युदर में 24 फीसदी की कमी आती है.

27

NW Desk : अगर आप लम्बे समय से बिना जिम या एक्सरसाइज के फिट रहने की सोच रहें है तो बस तेजी से चलने शुरुआत कर दें. तेज चलने की वजह से ना सिर्फ आप फिट रह सकेंगे बल्कि दिल से जुड़ी कई बीमारियों का खतरा भी कम होने लगेगा. एक रिसर्च के मुताबिक औसत गति से चलने से दिल संबंधी बीमारियों की मृत्युदर में 21 फीसदी की कमी आ जाती है और तेज गति से चलने वालों की मृत्युदर में 24 फीसदी की कमी आती है.

इसे भी पढ़ें : खाने के साथ पानी पीना है लाभदायक! घट सकता है वजन

धीरे-धीरे चलने की तुलना में औसत गति से चलने से सभी तरह की मृत्युदर में 20 फीसदी की कमी हो रही है, जबकि तेज गति से चलने से 24 फीसदी की कमी.

इसे भी पढ़ें : शरीर में पानी की कमी है खतरनाक! जानें क्या-क्या हो सकती हैं समस्याएं

तेज गति यानि पांच से सात किलोमीटर प्रति घंटा

सिडनी विश्वविद्यालय के चार्ल्स परकिंस सेंटर व स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के प्रोफेसर एमानुएल स्टामाटेकिस ने बताया कि नतीजों पर सेक्स या बॉडी मास इंडेक्स पर प्रभाव नहीं होता है, औसत या तेज गति से चलना सभी तरह के मृत्युदर के खतरे को विशेष रूप से कम करने मे मदद करता है. हालांकि, ऐसा कोई साक्ष्य नहीं है कि तेजी से चलने से कैंसर की मृत्युदर पर भी असर पड़ता होगा.

इसे भी पढ़ें : 10 फीसदी लोग ही बच पाते हैं इस रोग से! जाने क्या है लक्षण

उन्होंने कहा कि तेज गति आमतौर पर पांच से सात किलोमीटर प्रति घंटा होनी चाहिए, लेकिन यह वास्तव में चलने वाले व्यक्ति की फिटनेस स्तर पर भी निर्भर करता है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: