न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शौचालय के निर्माण में पहले की गड़बड़ी, अब रिटायरमेंट के बाद विभागीय जांच शुरू

पेयजल और स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता त्रिभुवन बैठा ने की शौचालय निर्माण में अनियमितता

38

Ranchi : स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत गुमला जिले में शौचालय निर्माण में गड़बड़ी का मामला सामने आया है. पेयजल और स्वच्छता विभाग के तत्कालीन कार्यपालक अभियंता त्रिभुवन बैठा ने शौचालय के निर्माण में न सिर्फ अनियमितता बरती, बल्कि केंद्र सरकार के पोर्टल में दूसरे शौचालय का फोटो अपलोड कर दिया. इतना ही नहीं बगैर शौचालय निर्माण के ही दूसरी औपचारिकतायें भी पूरी कर लीं. मामले को गंभीरता से लेते हुए श्री बैठा की सेवानिवृति के दो महीने बाद विभागीय कार्यवाही शुरू की गयी है. इनके खिलाफ आरोप पत्र गठित करते हुए जांच अधिकारी भी प्रतिनियुक्त कर दिया गया है.

28 दिसंबर को पूछा गया था स्पष्टीकरण

जानकारी के अनुसार विभाग की तरफ से 28.12.2017 को कार्यपालक अभियंता से यह पूछा गया था कि क्या आपने शौचालय निर्माण में अनियमितता बरती है. इसपर उनके द्वारा दिये गये जवाब को स्वच्छ भारत मिशन के पोर्टल से मिलान भी कराया गया, जिसमें काफी गड़बड़ियां पायी गयीं. इन्होंने लाभुकों के स्थान पर बिचौलियों से शौचालय का निर्माण करा लिया और भुगतान भी अवैध खातों में कर दिया. संयुक्त सचिव अभय नंदन अंबष्ट ने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ है, जिसमें बगैर निर्माण के ही राज्य और केंद्र सरकार दोनों को गलत जानकारी दी गयी. उन्होंने बताया कि कामेश्वर प्रसाद संचालन पदाधिकारी बनाये गये हैं. ये 105 दिनों में विभागीय जांच की कार्यवाही पूरी कर सरकार को अपनी अनुशंसा समर्पित करेंगे. जांच के क्रम में विभाग के ही अवर सचिव राकेश चंद्र संचालन पदाधिकारी को सहयोग करेंगे.

इसे भी पढ़ें – जंगल के रक्षक आदिवासियों को SC का फैसला कर देगा लहूलुहान, आंदोलन की राह पर झारखंड के आदिवासी

इसे भी पढ़ें – 14 वर्षों तक मिलीजुली सरकारों का दंश झेल चुकी है राज्य की जनता, गठबंधन सरकार से बचे: सीएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: