न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा जामाडोबा जीतपुर, वर्चस्व को लेकर फायरिंग

80

Dhanbad: जिले के झरिया के जोरापोखर थाना क्षेत्र के जीतपुर आर के सिंह कॉलोनी के रहने वाले राजकुमार सिंह एवं निरंजन सिंह के बीच वर्चस्व स्थापित करने के लिए मारपीट के बाद कई राउंड गोली चली. जिससे जीतपुर क्षेत्र थर्राया गया. घटना की जानकारी राजकुमार सिंह के बेटे ने पुलिस को दी.

वर्चस्व को लेकर चली गोली !

सूचना मिलते ही जोड़ापोखर पुलिस दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई. जांच के दौरान घटनास्थल से पुलिस ने एक खोखा एवं एक जिंदा कारतूस बरामद किया है. वही राजकुमार सिंह के बेटे की मानें तो पड़ोस के रहने वाले निरंजन सिंह, आसिफ खान, लड्डू पासवान दरवाजे पर आए और मेरे पिता राजकुमार सिंह एवं मेरे भाई कुणाल सिंह की हत्या करने की नीयत से खोजने लगे. विरोध करने पर निरंजन सिंह ने कमर से पिस्टल निकालकर अंधाधुध फायरिंग शुरु कर दी. गोलियों की आवाज सुन आसपास के लोग इकट्ठा होने लगे. भीड़ देख सभी लोग घटनास्थल से फरार हो गए. घटना को लेकर राजमुमर सिंह ने पुलिस को बताया कि निरंजन सिंह और उसके साथी कभी भी हमारे परिवार की हत्या कर सकता है. इस घटना के बाद राजकुमार सिंह के परिवार में भय का माहौल है.

वही दूसरी ओर निरंजन सिंह की बहन का कहना है कि राजकुमार सिंह के पुत्र चेतन सिंह एवं कुणाल सिंह कई आपराधिक मामले में जेल जा चुके हैं. इन लोगों से हमारे परिवार को खतरा है. भाई के घर में नहीं रहने के बाबजूद भी राजकुमार सिंह, कुणाल सिंह भतीजा शिवजी सिंह घर में घुसकर हमारे भाई की हत्या करने के उद्देश्य से खोज रहे थे. और निरंजन के नहीं मिलने पर मेरे साथ अभद्र व्यवहार किया और कमर से पिस्टल निकाल कर कई राउंड गोली चलाई.

इस मामले में जोड़ापोखर थाना प्रभारी सत्यम कुमार का कहना है गोली चली है. घटना के बाद से निरंजन सिंह फरार है. और राजकुमार सिंह ने निरंजन सिंह के खिलाफ मामले की लिखित शिकायत थाने में दर्ज कराई है. फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: