National

#Fire : दिल्ली के किराड़ी में आग लगने से छह माह के शिशु सहित नौ लोगों की मौत  

NewDelhi :  दिल्ली के किराड़ी इलाके में तीन मंजिला आवासीय सह वाणिज्यिक इमारत में सोमवार को भीषण आग लगने से तीन बच्चों समेत कम से कम नौ लोगों की मौत हो गयी. दिल्ली अग्निशमन सेवा विभाग (डीएफएस) ने बताया कि रविवार देर रात 12 बज कर 30 मिनट पर एक घर में आग लगने की सूचना मिलने के बाद दमकल की आठ गाड़ियों को मौके पर भेजा गया.  इमारत के भूतल में कपड़ों का एक गोदाम था और अन्य तीन मंजिलों पर लोग रहते थे.

विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि तड़के तीन बजकर 50 मिनट पर आग पर काबू पाया जा सका. उल्लेखनीय है कि इस घटना से कुछ ही दिन पहले उत्तरी दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में आठ दिसंबर को चार मंजिला इमारत में आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गयी थी.  इस इमारत में अवैध निर्माण इकाइयां थीं.

इसे भी पढ़े :  पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ने कहा, आंदोलन के नाम पर असंवैधानिक रास्ता अख्तियार कर रही हैं मुख्यमंत्री

तीन लोगों को बचा लिया गया

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि किराड़ी वाली घटना में तीन लोगों को बचा लिया गया जिनकी पहचान पूजा (24) और उसकी बेटियों आराध्या (तीन) और सौम्या (10) के रूप में की गयी है. आग से बचने के लिए ये तीनों बगल की इमारत में कूद गये थे.

मृतकों की शिनाख्त इमारत के मालिक राम चंद्र झा (65), सुदरिया देवी (58), संजू झा (36), गुड्डन और उदय चौधरी (33) एवं उसकी पत्नी मुस्कान (26) तथा उनके बच्चों अंजलि (10), आदर्श (सात) और छह माह की बच्ची तुलसी के रूप में की गयी है. इमारत में कोई अग्नि सुरक्षा उपकरण नहीं मिला.

इसे भी पढ़े : #CAA : योगी सरकार का दावा,  हिंसा में बाहरी तत्‍वों का हाथ, पीएफआई और सिमी से जुड़े छह लोग गिरफ्तार

सिलेंडर फटने के कारण इमारत का एक हिस्सा ढह गया

एक अधिकारी ने बताया कि दूसरी मंजिल पर सिलेंडर फटने के कारण इमारत का एक हिस्सा ढह गया. आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है.  ऐसा संदेह है कि शॉर्ट सर्किट की वजह से सिलेंडर फटा और उसी से आग लगी जिसके बाद इमारत की एक दीवार ढह गयी. रामचंद्र झा ने भूतल विजय सिंह कटारा को किराये पर दिया हुआ था,  जिसका दावा है कि आग में करीब 20 लाख रुपये की कीमत के कपड़े खाक हो गये.

अधिकारियों ने बताया कि गुड्डन राम चंद्र झा के एक बेटे की सास थी और उदय चौधरी किराएदार था. घटना के समय पूजा का पति और रामचंद्र झा का बेटा अमरनाथ झा अपने भाई के मौत के बाद कुछ रिवाज पूरे करने के सिलसिले में हरिद्वार में थे.  अधिकारियों ने बताया कि आगे की जांच जारी है.

इसे भी पढ़े :  #CAAProtest : राहुल गांधी ने ट्वीट कर युवाओं से राजघाट पहुंचने का आग्रह किया, धरना आज

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button