National

मुंबई के कामगार अस्पताल में आग, छह माह के बच्चे सहित आठ की मौत, 140 बचाये गये

Mumbai : मुंबई के अंधेरी में स्थित ईएसआईसी (ESIC) कामगार अस्‍पताल में सोमवार को आग लगने से आठ लोगों की मौत हो गयी. बताया गया है कि मरने वालों में छह महीने का एक बच्चा भी शामिल है. खबरों के अनुसार लगभग 140 लोगों को बचाया जा चुका है. अस्पताल से सुरक्षित निकाले गये लोगों में से 10 को कूपर अस्पताल में भर्ती कराया गया. बताया गया कि होली स्पिरिट अस्पताल और सेवन हिल्स अस्पताल में 15-15 लोगों को भर्ती कराया गया है, वहीं सात को इलाज के लिए ट्रॉमा अस्पताल में भेजा गया है. फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियां आग बुझाने में लगी हैं. यह जानकारी आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने दी. अधिकारियों ने बताया कि एक बचाव वाहन और 16 एंबुलेंस भी मौके पर मौजूद थे. मरनेवालों में अधिकतर मरीज और कर्मचारी थे. बीएमसी आपदा नियंत्रण के अनुसार आग शाम लगभग सवा चार बजे लगी. आग लगने का कारण शॉट सर्किट हो सकता है.

Jharkhand Rai

आग पांच मंजिला इमारत की ऊपरी मंजिल पर लगी

आग एमआईडीसी इलाके स्थित पांच मंजिला इमारत की ऊपरी मंजिल पर लगी. यह इलाका उत्तरी-पश्चिमी उपनगर का औद्योगिक केंद्र है. आग लगने के बाद उपनगर में दूर से धुएं की मोटी परत दिखाई दे रही थी और बचाव अभियान के परिणामस्वरूप शाम को अंधेरी के व्यस्त इलाके में भारी जाम लग गया.  केन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने मुंबई के ईएसआईसी अस्पताल में भारी आगजनी में मारे गये लोगों के परिवार वालों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. गंभीर रूप से घायल लोगों को दो-दो लाख रुपये और मामूली रूप से घायल लोगों को एक-एक लाख रुपये दिये जायेंगे.

 

Samford

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: