JharkhandLead NewsRanchi

सुदेश महतो और लंबोदर महतो समेत एक हज़ार आजसू कार्यकर्ताओं पर एफआइआर

Ranchi : आजसू पार्टी अपनी सात मांगों को लेकर सोमवार को विधानसभा का घेराव करने जा रही थी लेकिन पुलिस ने दलादली चौक के समीप ही रोक दिया था. कार्यकर्ता काफी उग्र हो गये थे और बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए आगे निकल गये थे, जिसे पुलिस ने बीच रास्ते में रोक लिया था. इसी मामले को लेकर नगड़ी थाना में प्राथमिकी दर्ज की गयी है. सरकारी आदेश का उल्लंघन कर दलादिली चौक पर सड़क जाम करने तथा हंगामा करने का आरोप लगाया गया है. इस मामले में आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो, गोमिया विधायक लंबोदर महतो, हकीम अंसारी, मुजिबुल अंसारी सहित हजारों कार्यकर्ताओं को आरोपी बनाया गया है.

बता दें खतियान आधारित स्थानीय नीति की मांग को लेकर सोमवार (7 मार्च 2022) को आजसू पार्टी ने विधानसभा घेराव की तैयारी की थी. इसके लिए पूरे राज्य से कार्यकर्ता रांची आने की तैयारी में थे. लेकिन राज्य सरकार के आदेश के बाद कार्यकर्ताओं को अलग-अलग जिलों में हिरासत में ले लिया गया था.

इसे भी पढ़ें :टंडवा NTPC में बवाल, फूंकी गई हैं 60 गाड़ियां, 200 के खिलाफ एफआईआर, 6 गिरफ्तार

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसके अलावा राजधानी रांची में भीड़ को एकत्रित होने से रोकने के लिए अलग-अलग मैदानों में धारा 144 लागू कर दी गयी थी. शहर के अलग-अलग इलाकों में भारी पुलिस बल की तैनाती की गयी थी.

The Royal’s
Sanjeevani

इसी दौरान नगड़ी की तरफ से सैकड़ों आजसू कार्यकर्ताओं की भीड़ दलादिली चौक पहुंच गयी. ये सभी पार्टी के झंडे व बैनर लिये हुए थे.

इन्हें शहर में प्रवेश करने से रोकने के लिए पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी थी. इस कारण यातायात भी प्रभावित हुआ. कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन के रवैये के खिलाफ जम कर नारेबाजी की थी.

इसे भी पढ़ें :JSCA स्टेडियम में फिर से ले सकेंगे बैडमिंटन, राइफल शूटिंग, टेनिस और स्वीमिंग पूल का मजा

Related Articles

Back to top button