न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खत्म हुआ कैमिकल, नहीं मिलेगा शुद्ध पानी

422

Lohardaga : लोहरदगा शहर के लोगों को दो दिन के बाद शुद्ध पेयजल मिलने में परेशानी होगी. शहरी जलापूर्ति योजना में एलम, चूना, ब्लीचिंग का दो दिन का ही स्टॉक शेष बचा है. शहरी जलापूर्ति योजना के तहत पानी को शुद्ध करने के लिए प्रतिदिन 7.5 किग्रा चूना, 15 किग्रा ब्लीचिंग और 4.5 क्विंटल एलम की आवश्यकता होती है, जो अब दो दिनों के लिए ही शेष बचा हुआ है. इसके बाद लोगों को कोयल-शंख नदी का मटमैला पानी ही उपयोग में लाना होगा. शहरी जलापूर्ति योजना के संवेदक की ओर से हाथ खड़े कर दिए गये हैं.

इसे भी पढ़ें- खूंटी : ग्रामीणों को ईसाई धर्म छोड़ने की मिल रही धमकी, डीसी-एसपी से सुरक्षा की लगायी गुहार

संवेदक को दो साल से नहीं मिला है बकाया पैसा

संवेदक का कहना है कि उन्हें विगत दो साल तीन माह से भुगतान नहीं हुआ है. ऐसे में उन्हें पानी को शुद्ध करने वाले आवश्यक सामानों की खरीद कर पाना मुश्किल है. शहरी जलापूर्ति योजना के तहत वर्तमान में तीन जलमीनार के माध्यम से चार लाख गैलन पानी की आपूर्ति हो रही है. शहरी क्षेत्र में कुल 2632 वैध जलापूर्ति कनेक्शनधारी हैं. जबकि पांच हजार अवैध कनेक्शनधारी भी हैं। ऐसे हालात में लोगों की परेशानी बढ़ सकती है.



न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: