न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आर्थिक भगोड़ा अपराधी घोषित न किया जाये, विजय माल्या SC की शरण में

विजय माल्या को आर्थिक भगोड़ा घोषित करने की ईडी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को सुनवाई होगी. बता दें कि माल्या की ओर से ईडी द्वारा दायर याचिका पर रोक लगाने की मांग की गयी है.

8

 NewDelhi : विजय माल्या को आर्थिक भगोड़ा घोषित करने की ईडी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को सुनवाई होगी. बता दें कि माल्या की ओर से ईडी द्वारा दायर याचिका पर रोक लगाने की मांग की गयी है. माल्या द्वारा बॉम्बे हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गयी है. माल्या द्वारा उसकी संपत्तियों को जब्त करने की कार्रवाई पर भी रोक लगाने की मांग की गयी है. पिछले माह 22 नवंबर को बॉम्बे हाईकोर्ट ने विजय माल्या द्वारा दायर उस याचिका को खारिज कर दिया था,  जिसमें उसे आर्थिक भगोड़ा अपराधी घोषित करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) के जरिए शुरू की गयी कार्रवाई पर रोक लगाने का आग्रह किया गया था. बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय माल़्या कासे भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने की मांग कर रहा है.

माल्या का शुरुआत से ही ऋण चुकाने का कोई इरादा नहीं था

ईडी ने अपनी याचिका में मांग की है कि माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया जाये और उसकी संपत्ति जब्त की जाये. साथ ही नये एफईओ कानून के प्रावधानों के तहत उसे केंद्र के नियंत्रण में लाया जाये. ईडी ने अपने पूर्व के आवेदन में कहा था कि माल्या का शुरुआत से ही ऋण चुकाने का कोई इरादा नहीं था, जबकि उसके और एमएस यूबीएचएल (यूनाइटेड ब्रेवरीज होल्डिंग्स लिमिटेड) के पास पर्याप्त संपत्तियां थीं.   आरोप लगाया है कि  माल्या ने जानबूझकर ऐसा किया है. इसलिए माल्या आर्थिक भगोड़ा अपराधी घोषित किया जाये और उसकी संपत्ति जब्त की जाये.  जान लें कि इस अधिनियम के तहत जिसे भी आर्थिक भगोड़ा घोषित किया जायेगा, तो उसकी संपत्ति तुरंत प्रभाव से जब्त कर ली जायेगी.

इसे भी पढ़ें :  प. बंगाल में अमित शाह की रथ यात्रा पर ब्रेक, ममता सरकार ने नहीं दी इजाजत

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: