JharkhandRanchi

वित्तीय जागरूकता एक कौशल, जो हर किसी के पास नहीं होता : राजीव अरुण

Ranchi : लर्निंग लिंक्स फाउंडेशन की ओर से श्रम विभाग में जादू गिन्नी का योजना का शुभारंभ किया गया. जिसमें मुख्य अतिथि श्रम विभाग के सचिव राजीव अरुण एक्का ने कहा कि आर्थिक निर्णय लेने के लिए जरूरी है कि वित्तीय जागरूकता भी हो. इसी के बल पर इंसान सही निर्णय ले सकता है. आमूमन बहुत कम लोगों के पास वित्तीय जागरूकता की हुनर होती है. क्योंकि लोग अब इस ओर ध्यान नहीं देते. उन्होंने कहा कि वित्तीय जागरूकता एक कौशल की तरह है. उन्होंने कहा कि ये काफी सराहनीय काम है. कि लोगों को एक एक गिन्नी के बचत के बारे में बताएं. उन्होंने कहा कि गांवों और बस्तियों में ऐसे आयोजन करने से लोगों को लाभ मिलेगा और लाखों भारतीय इस मुहिम से जुड़कर सशक्त बनेंगे.

एक करोड़ भारतीय तक पहुंचना है लक्ष्य

लर्निंग लिंक्स फाउंडेशन के विनय मेहरा ने जानकारी दी कि जादू गिन्नी का के तहत लोगों को आर्थिक निर्णय लेने और लोगों को सबल बनाने की पहल की जा रही है. 2020 तक लगभग एक करोड़ लोगों को इससे जोड़ा जाएगा. उन्होंने जानकरी दी कि वित्‍तीय साक्षरता वर्तमान समय में काफी जरूरी है. भविष्य में इसके संकट और भी गहन होंगे. इसके लिए जरूरी है कि लोग अभी से तैयार रहें.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इन विषयों को किया गया है शामिल

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

विनय ने जानकारी दी कि जादू गिन्नी में बुनियादी वित्तिय अवधारणाओं को शामिल किया गया है. जिसमें उधार, निवेश, वित्तीय योजना समेत अन्य विषयों को शामिल किया गया है. मौके पर संयुक्त श्रमायुक्त उमेश  प्रसाद सिंह, संतोष सिंह, पल्लवी साह समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

Related Articles

Back to top button