न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आखिरकार मालदा में अमित शाह के हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति ममता सरकार ने दी

पूर्व में सरकार ने अमित शाह के हेलीकॉप्टर को मालदा एयरपोर्ट पर लैंडिंग की इजाजत नहीं दी थी.  भाजपा ने जब इस मसले पर सवाल उठाया तो जिला प्रशासन ने शाह के हेलीकॉप्टर को उस जगह उतारने की अनुमति दी,

26

Kolkata : आखिरकार पश्चिम बंगाल के मालदा में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के हेलीकॉप्टर को उतरने की अनुमति मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस ने दे दी. बता दें कि पूर्व में सरकार ने अमित शाह के हेलीकॉप्टर को मालदा एयरपोर्ट पर लैंडिंग की इजाजत नहीं दी थी.  भाजपा ने जब इस मसले पर सवाल उठाया तो जिला प्रशासन ने शाह के हेलीकॉप्टर को उस जगह उतारने की अनुमति दी, जहां सीएम का हेलीकॉप्टर पूर्व में उतरता रहा है.  भाजपा द्वारा दलील दी गयी कि जब हर सप्ताह सीएम का चॉपर वहां उतरता है, तब फिर शाह के हेलीकॉप्टर को इजाजत क़्यों नहीं दी जा रही है. इसके बाद जिला प्रशासन ने भाजपा को शाह के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के संबंध में मंजूरी दे दी. 22 जनवरी को वहां के होटल गोल्डन पार्क के सामने मैदान में हेलीकॉप्टर की लैंडिंग होगी.

झूठ बोलकर अमित शाह के चॉपर को लैंडिंग की अनुमति नहीं दी गयी

बता दे कि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस पर ममता सरकार को घेरा. प्रसाद ने कुछ मीडिया रिपोर्ट्स का हवाला देते हुए पूछा था, कुछ दिन पहले ममता जी का हेलीकॉप्टर भी वहां उतरा था. कुछ पत्रकार वहां गये थे.  मेरे पास फोटोज हैं. वहां हेलीकॉप्टर लैंडिंग हो रही है. फिर भी झूठ बोलकर अमित शाह जी के चॉपर को लैंडिंग की वहां अनुमति नहीं दी गयी. अमित शाह हाल ही में दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में स्वाइन फ्लू का इलाज कराने के बाद डिस्चार्ज हुए हैं. बता दें कि  22 जनवरी को मालदा में उनकी रैली प्रस्तावित है. खबरों के अनुसार अमित शाह पहले कोलकाता पहुंचेंगे. फिर वहां से हेलीकॉप्टर से मालदा जाकर आयेाजित रैली में पार्टी कार्यकर्ताओं और जनता को संबोधित करेंगे. मालदा के एडिशनल डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ने  कहा था कि  मालदा एयरपोर्ट हेलीकॉप्टरों की लैंडिंग के लिए सुरक्षित नहीं है. इसलिए अनुमति देना संभव नहीं है.

शाह के दौरे से टीएमसी घबराई हुई है

हालांकि एक अंग्रेजी टीवी चैनल की टीम जब मालदा एयरपोर्ट पहुंची, तो पाया कि वहां पर हेलीपैड और रनवे साफ-सुथरे हैं.  जिला प्रशासन द्वारा दी गयी जानकारी से बिल्कुल उलट स्थिति थी.  एयरपोर्ट पर काम करने वाले कर्मचारियों ने भी टीम को बताया कि वहां लगातार हेलीकॉप्टरों की लैंडिंग कराई जा रही है. एयरपोर्ट के आस-पास काम करने वाली दिपाली दास ने चैनल को बताया कि मंत्री और यात्री यहां हेलीकॉप्टरों से आते हैं.  पूर्व में हेलीकॉप्टर सेवा निरंतर नहीं थी, पर यहां हर हफ्ते चॉपर उतर रहे हैं. मालदा के भाजपा नेता संजय शर्मा के अनुसार पार्टी ने स्थानीय प्रशासन ने इस संबंध में बात की है.  उनका दावा था कि टीएमसी इस बात से घबराई हुई है कि अगर शाह मालदा की रैली में आयेंगे, तो भाजपा को और अधिक समर्थन मिलेगा.

इसे भी पढ़ें : 2019 लोकसभा चुनाव : राहुल गांधी के चुनावी मैनेंजमेंट टीम से कांग्रेस में असंतोष

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: