न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया के खिलाफ मानहानि का मामला दायर

32

New Delhi : भाजपा नेता विजेंद्र गुप्ता ने अपनी छवि ‘‘धूमिल’’ करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया.

केजरीवाल और सिसोदिया ने गुप्ता पर आप प्रमुख की ‘‘हत्या की साजिश’’ रचने वालों में शामिल होने का आरोप लगाया था. गौरतलब है कि गुप्ता ने केजरीवाल और सिसोदिया को एक सप्ताह पहले कानूनी नोटिस भेजकर उनसे माफी मांगने के लिये कहा था.

इसे भी पढ़ेंःतत्कालीन महापौर रमा खलखो के ससुरालवालों ने सतीश चंद्र बाउल की 5.53 एकड़ जमीन पर कर रखा है कब्जा

क्या कहा था केजरीवाल ने

दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता ने कहा कि मैंने उनके (केजरीवाल और सिसोदिया के) खिलाफ पटियाला हाउस अदालत में मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है क्योंकि उन्होंने मेरे कानूनी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया.

उन्होंने मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के खिलाफ पुलिस में भी शिकायत दर्ज करायी है और आरोप लगाया कि वे अरविंद केजरीवाल की हत्या की कथित साजिश में उन्हें ‘‘गलत तरीके से फंसाने’’ की कोशिश कर रहे हैं.

लोकसभा चुनाव के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री ने एक पंजाबी चैनल को दिये साक्षात्कार में कहा था कि जिस तरह से इंदिरा गांधी की हत्या की गयी थी ठीक उसी तरह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) भी उनके (केजरीवाल के) अपने निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) के जरिये उनकी हत्या करवाना चाहती है.

इसे भी पढ़ेंःदर्द ए पारा शिक्षक: बेटे को प्रतियोगी परीक्षा नहीं दिला पा रहे अमर, मानदेय मिलता तो परीक्षाएं नहीं छूटतीं

सिसोदिया ने भी लगाया था आरोप

इस आरोप के जवाब में गुप्ता ने ट्वीट किया कि चार मई को थप्पड़कांड से पहले अरविंद केजरीवाल ने संपर्क अधिकारी से अपने वाहन के आसपास मौजूद सुरक्षा घेरे को हटाने का निर्देश दिया था. मुख्यमंत्री का निर्देश रोजनामचे में दर्ज हैं.

इससे आप कोई चुनावी फायदा नहीं हासिल कर सकी क्योंकि मैंने इसका खुलासा कर दिया, इसलिए हताश केजरीवाल यह कह रहे हैं कि उनका पीएसओ भाजपा को रिपोर्ट करता है. उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने भी पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि अरविंद केजरीवाल की हत्या की साजिश रचने वालों में गुप्ता शामिल हैं.

style="display:block; text-align:center;" data-ad-layout="in-article" data-ad-format="fluid" data-ad-client="ca-pub-4464267052229509" data-ad-slot="3747040069">

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्लर्क नियुक्ति के लिए फॉर्म की फीस 1000 रुपये, कितना जायज ? हमें लिखें..
झारखंड में नौकरी देने वाली हर प्रतियोगिता परीक्षा विवादों में घिरी होती है.
अब JSSC की ओर से क्लर्क की नियुक्ति के लिये विज्ञापन निकाला है.
जिसके फॉर्म की फीस 1000 रुपये है. यह फीस UPSC के जरिये IAS बनने वाली परीक्षा से
10 गुणा ज्यादा है. झारखंड में साहेब बनानेवाली JPSC  परीक्षा की फीस से 400 रुपये अधिक. 
क्या आपको लगता है कि JSSC  द्वारा तय फीस की रकम जायज है.
इस बारे में आप क्या सोंचते हैं. हमें लिखें या वीडियो मैसेज वाट्सएप करें.
हम उसे newswing.com पर  प्रकाशित करेंगे. ताकि आपकी बात सरकार तक पहुंचे. 
अपने विचार लिखने व वीडियो भेजने के लिये यहां क्लिक करें.

you're currently offline

%d bloggers like this: