न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दुनिया भर में हॉकी के दर्शक बढ़ाने के लिए 2019 में शुरू होगा एफआईएच लाइव

जिसके तहत हर हॉकी मैच का एक ही पोर्टल पर प्रसारण देखा जा सकेगा.

14

Delhi : दुनिया भर में हॉकी के प्रसारण का दायरा बढाने और हॉकी समुदाय को जोड़ने के लिये अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) जनवरी 2019 में एफआईएच लाइव शुरू करेगा. जिसके तहत हर हॉकी मैच का एक ही पोर्टल पर प्रसारण देखा जा सकेगा.

इसे भी पढ़ें : धोनी की गैरमौजूदगी का फायदा उठाएंगे युवा खिलाड़ी ऋषभ पंत : भारतीय कप्तान

एफआईएच की 46वीं कांग्रेस के बाद इसके मुख्य कार्यकारी अधिकारी थियरे वेल ने बताया कि हम 10 जनवरी 2019 को इसे लांच करेंगे. जिसका मकसद हॉकी कोचों, खिलाड़ियों, परिवारों, दोस्तों और प्रशंसकों को जोड़ना है. इसके तहत हमारे सभी 137 सदस्य देशों में खेले जाने वाले हर तरह के हॉकी मैच को एफआईएच लाइव पर अपलोड किया जा सकेगा ताकि अधिक से अधिक दर्शक इसे देख सकें.

इसे भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ : नक्सलियों को क्रांतिकारी बताया राज बब्बर ने, कहा , नक्सल आंदोलन अधिकारों को लेकर शुरू…

सभी सदस्य देशों से जुड़ने की अपील

उन्होंने कहा कि फिलहाल एफआईएच फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब जैसे कई मंचों पर है लेकिन प्रसारण को एक मंच देने के लिये एफआईएच लाइव शुरू करने का फैसला किया गया है. हमने सभी सदस्य देशों से इससे जुड़ने की अपील की है. इसमें सड़क पर होने वाले मैच भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें : बोफोर्स कांड अलग, राफेल डील में भ्रष्टाचार और राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता दोनों किये गये :  …

यह पूछने पर कि अंतरराष्ट्रीय हॉकी के प्रसारण अधिकार खरीदने वाले चैनलों के हित इससे प्रभावित नहीं होंगे, वेल ने कहा कि जिन मैचों का सीधे प्रसारण हो रहा है. वे इस चैनल पर सीधे नहीं बल्कि कुछ समय के बाद देखे जा सकेंगे या उनके मुख्य अंश का ही प्रसारण होगा.

एफआईएच की इस कांग्रेस में 112 देशों के करीब 250 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था.

इसे भी पढ़ें : सबरीमला मंदिर सोमवार को खुलेगा, कस्बे में 1,500 पुलिस अधिकारी तैनात

वैश्विक स्तर पर खेल का प्रचार और प्रसार

वेल ने बताया कि हॉकी के विकास के लिये हॉकी 2024  नीति भी तय की गई है. जिसका लक्ष्य वैश्विक स्तर पर खेल का प्रचार और प्रसार होगा.

कांफ्रेंस में लिये गए महत्वपूर्ण फैसलों में यह भी शामिल है कि 2024 के बाद हॉकी ऐसे टर्फ पर नहीं खेली जायेगी. जिसके रख रखाव के लिये काफी पानी की जरूरत पड़ती हो.

इसे भी पढ़ें : कृषि विशेषज्ञ पी साईंनाथ की नजर में मोदी सरकार की फसल बीमा योजना राफेल से भी बड़ा गोरखधंधा

काफी साहसिक लेकिन महत्वपूर्ण फैसला

उन्होंने कहा कि  हम ऐसी प्रणाली पर काम कर रहे हैं. जिसके तहत हॉकी ऐसी टर्फ पर खेली जा सके जिसके लिये अधिक पानी की जरूरत नहीं पड़ती हो. जलसंकट के दौर में ऐसा करना जरूरी है. यह काफी साहसिक लेकिन महत्वपूर्ण फैसला है और हम यह भी बताना चाहते हैं कि हॉकी हर तरह की टर्फ पर खेली जा सकती है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: