Corona_Updates

#FightAgainstCorona : रिम्स के आइसोलेशन वार्ड में 100 बेड और इमरजेंसी के लिए 14 वेंटीलेटर की सुविधा है उपलब्ध

  • कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के लिए बनाये गये आइसोलेशन वार्ड का सीएम हेमंत सोरेन ने किया निरीक्षण
  • सीएम ने कहा- स्थिति को देखते हुए आइसोलेशन वार्ड में बेडों और मरीजों के जांच की बढ़ायी जायेगी क्षमता

Ranchi : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रविवार शाम राजधानी स्थित रिम्स के ट्रॉमा सेंटर में कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के लिए बनाये गये आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने रिम्स के निदेशक डॉ डीके सिंह से हॉस्पिटल में की गयी तैयारियों की पूरी जानकारी ली.

रिम्स निदेशक ने मुख्यमंत्री को बताया कि यहां बनाये गये आइसोलेशन वार्ड में अभी 100 बेड की व्यवस्था है. इसके अलावा इमरजेंसी के लिए 14 वेंटीलेटर हैं. निरीक्षण के क्रम में सीएम सोरेन ने उन्हें कई तरह के निर्देश भी दिये.

मुख्यमंत्री ने निदेशक से कहा कि रिम्स में अगर कोरोना वायरस का कोई भी मरीज आता है तो उसके टेस्ट और इलाज में किसी तरह की कोई कमी नहीं आनी चाहिए. इस दौरान अपर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का,  स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव नितिन मदन कुलकर्णी और मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल जी तिवारी मौजूद थे.

advt

इसे भी पढ़ें – #Lockdown:  600 से अधिक दाल-भात केंद्र हैं संचालित, अब सीएम कैंटीन योजना से भूखों को खिलायेगी सरकार – हेमंत सोरेन

आइसोलेशन वार्ड में बेड बढ़ाने का हो रहा प्रयास

सीएम ने कहा कि आज भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना महामारी का प्रकोप है. भारत में कोरोना संक्रमण के लगातार मामले आ रहे हैं. जहां तक झारखंड की बात है, यहां अभी तक कोरोना पॉजिटिव का एक भी मामला सामने नहीं आया है, लेकिन अगर किसी तरह की मुसीबत आती है तो उससे बचाव को लेकर सरकार के स्तर पर हर तरह के इंतजाम किये गये हैं.

सीएम ने कहा कि यहां कोरोना वायरस के आनेवाले सभी संदिग्ध मरीजों को टेस्ट करने के उपरांत जिन्हें चिकित्सीय सुविधा की जरूरत हो, उसे उपलब्ध करायें. कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और निपटारे को लेकर सरकार पूरी तरह गंभीर है. रिम्स में बेडों की संख्या को बढ़ाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं. सरकार का प्रयास है कि 1000 बेड कोरोना मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड में चौबीस घंटे तैयार रखा जा सके.

इसे भी पढ़ें – #CoronaUpadates : रिम्स में रविवार को 14 की हुई जांच, 13 निगेटिव, एक का होगा रिपीट टेस्ट

adv

हर दिन 180 मरीजों की जांच की है क्षमता

रिम्स निदेशक ने सीएम को बताया कि यहां फिलहाल हर दिन 180 मरीजों की जांच की क्षमता है. जांच की क्षमता  को बढ़ाने के लिए आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं. रिम्स के ट्रॉमा सेंटर में बनाये गये आइसोलेशन वार्ड में हेल्प डेस्क भी बनाया गया है. इसके अलावा कोरोना वायरस के आनेवाले संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग के लिए अलग से स्क्रीनिंग रूम है. रिम्स के निदेशक ने मुख्यमंत्री को बताया कि केंद्र और राज्य सरकार के गाइडलाइन के अनुरूप आइसोलेशन वार्ड को तैयार किया गया है.

इसे भी पढ़ें – #FightAgainstCorona : मेडिकल, इमरजेंसी, डोर टू डोर जैसी सेवाओं के लिए जिला प्रशासन जारी कर रहा ई-पास

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button