Corona_Updates

#FightAgainstCorona : सैंपलों की जांच के लिए मंगायी गयी 4 नयी जांच मशीनें, 1 रिम्स में लगेगी

विज्ञापन
  • मुख्य सचिव ने कहा – आपदा मित्र नाम का फूड चेन बना कर मोहल्लों से सुदूर गांव तक पहुंचाएं सुविधा
  • राज्य के जो लोग जहां हैं, वहीं रहेंगे, उपलब्ध करायी जायेंगी आवश्यक सुविधा

Ranchi : कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव और लॉकडाउन को देखते हुए मुख्य सचिव डीके तिवारी ने कहा है कि राज्य सरकार ने कोरोना के सैंपल जांच के लिए 4 नयी जांच मशीनें मंगायी हैं. उनमें से एक रिम्स में लगेगी. वहीं अन्य तीन यथाशीघ्र राज्य के अन्य जगहों पर लगायी जायेंगी. राज्य में इटकी सहित अन्य सभी मेडिकल कॉलेजों में ऐसी व्यवस्था करायी जायेगी.

वहीं लॉकडाउन बाद लोगों को आ रही समस्याओं को देखते हुए उन्होंने फूड चेन (आपदा मित्र) बनाने का निर्देश दिया है. मुख्य सचिव ने कहा है कि कहा है कि मोहल्लों से लेकर सुदूर गांव के लोगों तक आवश्यक सामग्री पहुंचाने को प्राथमिकता दिया जाये.

इसके लिए हर जिले के डीसी, सिविल सोसायटी, एनसीसी और अन्य सामाजिक संगठनों की मदद से कम से कम 1000 लोगों का फूड सप्लाई चेन बनायें. उन्होंने इसका नाम आपदा मित्र रखने का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें – #FilghtAgainstCorona : भारतीय सेना ने कसी कमर, कोरोना के खिलाफ छेड़ा ‘ऑपरेशन नमस्ते’

जो जहां हैं, वहीं उन्हें सुविधा दिलाने को प्रयासरत है सरकार

राज्य के बाहर फंसे लोगों के लिए कहा है कि विभिन्न प्रदेशों में फंसे झारखंडवासियों के वापस लाने पर हर विकल्प को तलाशा जा रहा है. हालांकि केंद्र की गाइडलाइन को देखते हुए उन्होंने यह भी कहा है कि झारखंड के जो लोग, अन्य प्रदेशों में जहां हैं, वहीं बने रहेंगे. राज्य सरकार प्रयासरत है कि उन्हें वहीं पर सभी सुविधा उपलब्ध करायी जाये.

उन राज्यों के शासन और प्रशासन से संपर्क कर उन्हें मूलभूत जरूरतों को पूरा कराने के लिए राज्य सरकार संबंधित राज्यों से लगातार संपर्क में है. बाहर के प्रदेशों में फंसे लोगों की संख्या, पता-ठिकाना आदि की सही जानकारी लेकर उन तक स्थानीय स्तर पर सुविधा पहुंचाने का प्रयास जल्द ही शुरू कर दिया जायेगा.

मुख्य सचिव ने यह बातें राज्यस्तरीय समितियों के नोडल पदाधिकारियों के साथ बैठक के दौरान कहीं. इस दौरान अपर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, अरूण कुमार सिंह, केके खंडेलवाल, प्रधान सचिव एपी सिंह सहित कई आला अधिकारी मौजूद थे. बैठक में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव को लेकर भी हर सुझाव साझा भी किये गये.

इसे भी पढ़ें – FightAgainstCorona : जानिये एम्स ने क्या बताया है कोरोना वायरस के बारे में…

हाट बाजार नहीं लगने से लॉकडाउन को बनाया जा सकेगा सफल

फूड सप्लाई चेन बनाने की बात करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि ये लोग ही डोर टू डोर आवश्यक सामग्री की सप्लाई करेंगे. इससे हाट बाजारों में भीड़ पर अंकुश लगाते हुए लॉकडाउन को पूरी तरह सफल बनाया जा सकेगा. उन्होंने कहा कि राशन की सभी दुकानें पर्याप्त समय तक खुलें और उसमें पर्याप्त मात्रा में राशन रहे, यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए.

इसके लिए इलाके वार सभी राशन दुकानों और दुकानदारों की सूची बनाने का निर्देश दिया गया. सूखा राशन पैक युद्धस्तर पर बनाने पर बल देते हुए उन्होंने उसे सप्लाई चेन से जोड़ने को कहा. इसके लिए प्रत्येक जिले में पर्याप्त पैकेट्स की दर से तैयारी कर ली जाये.

सहिया, सहायिका और मुखिया देंगे संदिग्ध की जानकारी

गांवों तक यह सुविधा पहुंचाने के लिए सहिया, सहायिका और मुखिया को जूम टेक्नोलॉजी से जोड़ने का निर्देश देते हुए कहा कि ये लोग ही यह सूचना भी देंगे कि किस गांव में कितने और कौन-कौन लोग बाहर के प्रदेशों से आये हैं, ताकि उनकी जांच और निगरानी हो सके. अगर किसी में कोरोना के लक्षण नजर आ रहे हैं तो सहिया, सहायिका और मुखिया का चेन तत्काल प्रशासन को सूचित कर सकेगा. इस फीडबैक के आधार पर तत्काल सैंपल लेकर जांच आदि की कार्यवाही की जा सकेगी.

घर तक दवा पहुंचाने की हो व्यवस्था

मुख्य सचिव ने लॉकडाउन के दौरान लोगों तक दवा पहुंचाने पर बल देते हुए पेशेंट मैनेजमेंट सिस्टम तत्काल बनाने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि यह व्यवस्था इलाकावार हो. इसके लिए फार्मेसी यूनियन से बात कर दवा की होम डिलिवरी सिस्टम को अमलीजामा पहनायें. इसे प्रचारित भी करायें. राज्य की प्राथमिकता अब प्रतिदिन टेस्ट क्षमता को बढ़ाना है. इसके अलावा प्रयत्न कर वर्तमान में कार्यरत मशीनों को बढ़ाकर उनकी संख्या तत्काल 20 तक कराया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि अब पूरा ध्यान टेस्टिंग, डिटेक्शन और आइसोलेशन पर देना है.

न्यूज विंग की अपील

देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

इसे भी पढ़ें – #LockDown21 : लॉकडाउन से उत्पन्न समस्याओं को दूर करने में जुटा प्रशासन, एक कॉल पर घर में ही जरूरत की जायेगी पूरी, टॉल फ्री नंबर जारी

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: