National

CS पिटाई मामला : केजरीवाल के निजी सचिव से पुलिस ने की पूछताछ

New Delhi : दिल्ली के मुख्य सचिव पर फरवरी में कथित हमले के सिलसिले में नगर पुलिस ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव और लोक निर्माण विभाग के एक कनिष्ठ इंजीनियर से पूछताछ की. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है. अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (उत्तर) हरेन्द्र सिंह ने इस बात की पुष्टि की कि अधिकारियों ने पूछताछ की लेकिन इस संबंध में विस्तृत जानकारी देने से इनकार कर दिया. उल्लेखनीय है कि पुलिस को सिविल लाइंस इलाके में स्थित केजरीवाल के आवास में लगे सीसीटीवी कैमरों की हार्ड डिस्क की फॉरेंसिक रिपोर्ट पिछले हफ्ते मिल गई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, कथित हमले की रात सीसीटीवी कैमरों में दिख रहा वक्त वास्तविक समय से करीब 40 मिनट पीछे था.

इसे भी पढ़ें- मनरेगा : बकरी और मुर्गी का भी हक मार गये अधिकारी और बिचौलिये, डकार गये पौने तीन लाख रुपये

सीसीटीवी के समय को लेकर की गई पूछताछ

Catalyst IAS
SIP abacus

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रिपोर्ट पर गौर करने के बाद उन्होंने केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार और लोक निर्माण विभाग में कनिष्ठ इंजीनियर को तलब किया. यह कनिष्ठ इंजीनियर मुख्यमंत्री आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरों के रखरखाव का प्रभारी है. जांच से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि फॉरेंसिक रिपोर्ट में यह नहीं बताया गया है कि जब हमला हुआ तब कैमरों के साथ छेड़छाड़ की गई या वक्त बदला गया. कनिष्ठ इंजीनियर से समय को लेकर पूछताछ की गई कि क्या यह जानबूझकर किया गया था या प्रणाली में खामी थी. कुमार से अप्रैल में भी पूछताछ की गई थी. जिसके बाद मंगलवार को सिविल लाइंस थाने में उनसे फिर से पूछताछ की गई. उनसे पूछताछ यह पता लगाने के लिए की गई कि क्या हमला पूर्व नियोजित था और सीसीटीवी कैमरों के बारे में भी सवाल किए गए. कुमार और कनिष्ठ इंजीनियर को नोटिस भेजे गए थे और पूछताछ दोपहर 12 बजे शुरू हुई थी.

Sanjeevani
MDLM

इसे भी पढ़ें- हाईकोर्ट के निर्देश पर त्रिवेणी सैनिक के एजीएम, सुरक्षा एजेंट सहित अन्य पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज

पुलिस कर चुकी है सीसीटीवी कैमरों की जांच

23 फरवरी को पुलिस ने केजरीवाल के सरकारी आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच की थी और हार्ड डिस्क को जब्त कर लिया था. आवास पर लगे 14 कैमरे काम कर रहे थे जबकि सात काम नहीं कर रहे थे. मुख्यमंत्री आवास पर इस साल 19 फरवरी की रात एक बैठक के दौरान मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित रूप से हमला किया गया था. पुलिस ने कहा था कि घटना के वक्त मुख्यमंत्री मौजूद थे. पुलिस ने घटना के बाबत केजरीवाल , उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया , आप के 11 विधायक और मुख्यमंत्री के पूर्व सलाहकार वी के जैन से पूछताछ की है. ये सभी घटना के वक्त मौजूद थे. इस घटना के सिलसिले में आप के दो विधायक — अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जरवाल को गिरफ्तार भी किया गया था लेकिन बाद में उन्हें जमानत मिल गई.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button