Sports

12 साल बाद फीफा के फाइनल में फ्रांस, जश्न में डूबा देश

Paris: फ्रांस ने जैसे ही बेल्जियम को हराकर विश्व कप फाइनल में प्रवेश किया, वहां सड़कों पर फ्रांस के राष्ट्रगीत ‘ला मार्शेलेस’, ‘वी आर इन द फाइनल’ के साथ कार के हार्न और पटाखों का शोर गूंज उठा . पेरिस के ऐतिहासिक टाउन हाल के पास बड़ी स्क्रीन पर मैच देखने जमा हुए करीब 20000 फुटबालप्रेमी जश्न में डूब गए. 1-0 से बेल्जियम को मात देकर फ्रांस ने फाइनल में प्रवेश किया.

इसे भी पढ़ेंः पंड्या ने तीसरे टी20 का श्रेय रोहित शर्मा को दिया , कहा – सलामी बल्लेबाज ने विशेष पारी खेली   

12 साल बाद फाइनल में फ्रांस

Catalyst IAS
ram janam hospital

फ्रांस ने 12 साल के बाद फीफा विश्व कप के फाइनल में इंट्री की है. फ्रांस के पास ये दूसरा मौका है विश्व कप चैंपियन बनने का. इससे पहले उसने घरेलू जमीन पर 1998 में विश्व कप जीता था. फ्रांस और बेल्जियम के बीच मुकाबला शुरुआत से ही बेहद रोमांचक हुआ. हालांकि, बेल्जियम का गेंद पर कब्जा ज्यादा रहा, लेकिन फ्रांस ने गोलपोस्ट पर निशाने ज्यादा साधे. पहले हाफ में दोनों टीमों ने गोल करने की कई बार कोशिश की , लेकिन किसी के हाथ सफलता नहीं लगी. हाफ टाइम से पहले फ्रांस की टीम ने 11 बार गोलपोस्ट पर निशाना साधा. हालांकि, उसे सफलता नहीं मिली. पहले हाफ में फैंस और दोनों ही टीमों के हाथ निराशा लगी क्योंकि गोल नहीं हुआ और स्कोर 0-0 रहा. वही दूसरे हाफ में फ्रांस ने शुरुआत से ही अपने आक्रमण तेज किए, जिसका फायदा उसे 51वें मिनट में मिला. सैमुअल उमटीटी ने हेडर के जरिए गोल दाग दिया. उमटीटी ने बेल्जियम के फेलानी के सामने आकर हेडर जमाया और कोरटोइस के पास से गेंद नेट में भेदकर फ्रांस को 1-0 की बढ़त दिलाई. इस ततरह से फ्रांस ने ये मुकाबला 1-0 से जीत लिया.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

जश्न में डूबा फ्रांस

12 साल बाद फिर से विश्व कप चैंपियन बनने का सपना पूरा होता देख, सड़कों पर जनसैलाब इस कदर उमड़ा कि लोग पेड़ों, कार के ऊपर, डस्टबिन और बसों की छत पर चढ़ गए. लोग राष्ट्रध्वज को चूमते और एक दूसरे को गले लगकर बधाई देते नजर आये. जश्न मना रहे सेबेस्टियन ने कहा,‘‘ मैं 1998 में 18 बरस का था. आज मेरे जीवन का सबसे खूबसूरत दिन है. हम रविवार को विश्व कप जीतेंगे.’’ जश्न में डूबे छात्र लिया कहते हैं कि तब मैं पैदा भी नहीं हुआ था जब फ्रांस ने विश्व कप जीता था. उसने कहा,‘‘ हम अब 1998 का अनुभव करने जा रहे हैं. सब सपने जैसा है.’’

बीस साल पहले विश्व कप जीतने पर फ्रांस में इसी तरह का जश्न देखा गया था जब रोशनी का शहर देश के ध्वज के तीन रंगों लाल, नीले और सफेद से नहा गया था.

इस दौरान जमा भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे. दरअसल, फ्रांस में नवंबर 2015 के आतंकी हमलों के बाद से ही सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये जाते है. वही टाउन हाल में करीब 1200 पुलिसकर्मी तैनात थे.

वही बुधवार को दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड का सामना क्रोएशियाई टीम से होगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button