न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बाप-बेटे का अपहरण, एक लाख वसूलने के बाद किया रिहा, एक गिरफ्तार

रात में बंदूक सटाकर बाप-बेटे को लिया था कब्जे में

256

Palamu :

पलामू जिले के मोहम्मदगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत बटौआ गांव में बीती रात बाप-बेटे का अपहरण कर लिया गया और एक लाख वसूलने के बाद छोड़ा गया. इस दौरान उनकी पिटायी भी की गयी.

 

इसे भी पढ़ें : स्मार्ट बिजली मीटर खरीद में 18.5 करोड़ के घोटाले की साजिश, यूपी-बिहार से महंगे रेट पर होगी झारखंड में मीटर की सप्लाई

एक आरोपी गिरफ्तार, बाकी फरार

घटना के बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी कर रही है। इस संबंध में पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है.  हुसैनाबाद के एसडीपीओ मनोज महतो के नेतृत्व में कार्रवाई की गयी. नरेश चौहान के बयान पर दिलीप चौहान को गिरफ्तार किया गया.

बाप-बेटे का अपहरण, एक लाख रूपया वसूले, एक गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें- विवादों में हज कमेटी : विधायक इरफान ने लुईस मरांडी पर लगाया पक्षपात करने का आरोप

खाना खाते समय किया अगवा

silk_park

जानकारी के अनुसार बुधवार रात आठ-नौ बजे के बीच बटौआ गांव में नरेश चौहान और उसका पुत्र जीतू चौहान खाना खा रहे थे. इसी बीच चार हथियारबंद लोग उसके घर पहुंचे. दरवाजा नहीं रहने के कारण तीन अपहरणकर्ता अंदर आ गए,  जबकि एक बाहर रहा. बंदूक सटाकर दोनों बाप-बेटे को कब्जे में ले लिया. घर से कुछ दूर ले जाकर उनकी पिटायी की गयी और फिर पास के जंगल में ले जाया गया. यहां पिता को यह कहते हुए मुक्त कर दिया कि एक लाख रूपया लेकर आओ नहीं तो उसके बेटे की हत्या कर दी जायेगी.

पिता भागता हुआ गांव में पहुंचा और ग्रामीणों को जगाकर उनसे मदद का आग्रह किया. किसी तरह एक लाख रूपया इक्ट्ठा कर पुनः उसी जंगली में गया. यहां पैसे देने के बाद अपने बेटे को किसी तरह छुड़ाया. सुबह जब घटना की सूचना पुलिस को मिली तो कार्रवाई तेज की गयी.

बाप-बेटे का अपहरण, एक लाख रूपया वसूले, एक गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें- घोषणा कर भूल गयी सरकार – 14 जुलाई : साहब, दो साल बीत गये रांची कब बनेगी वाई-फाई सिटी

टीपीसी के नाम पर करता था रंगदारी

नरेश ने पुलिस को बताया कि दिलीप चौहान पूरे घटना का सरगना है. काशीसोत डैम में टीपीसी के नाम पर मछली मरवाता है. इससे ग्रामीण भय खाते हैं. डैम में गांव की महिला समूह मछली का जीरा डालती हैं, लेकिन प्रभाव के बल पर दिलीप मछली मार लेता है और उसे बेचकर पैसा भी लगातार बनाते रहता है. इसी के द्वारा चार अज्ञात लोगों को पैसा लेने के लिए बुलाया था, जिसको पीड़ित नहीं पहचानते. इस संबंध में दिलीप सहित चार अज्ञात के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: