Jamshedpur

कुसुम योजना से 90 फीसदी अनुदान पर किसानों को मिलेंगे सोलर पंप, जिले के 300 किसान जुड़े

सिंचाई से लहलहायेंगे 1700 एकड़ खेत, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के कारण किसानों को हो रही थी परेशानी

Jamshedpur : कम आय के कारण खेती-बाड़ी के पेशे को छोड़ने को मजबूर किसानों के लिए अच्छी खबर है. सरकार की बहुआयामी कुसुम योजना से जिले के 300 किसानों को जोड़ दिया गया है. जिसके तहत किसानों को सिंचाई के लिए 90 प्रतिशत अनुदान पर झारखंड रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (ज्रेडा) की ओर से 90 प्रतिशत अनुदान पर सोलर पंप उपलब्ध कराए जाएंगे. मामले की जानकारी देते हुए जिला उद्यान पदाधिकारी मिथिलेश कालिंदी ने बताया कि पूर्वी सिंहभूम में 300 किसानों के खेतों में कुसुम योजना के तहत सौर लिफ्ट पंप का अधिष्ठापन किया जा रहा है. जिससे 1500 एकड़ की भूमि को सींचा जा सकेगा. इसका लाभ आस-पास के 250 किसानों को भी मिल सकेगा. इस प्रकार से लगभग 1700 एकड़ भूमि को इसका लाभ मिल सकेगा.

जिला प्रशासन के इस प्रयास को लेकर घाटशिला प्रखंड के दीघा ग्राम के किसान छतिस तिरिया ने कहा कि जिन किसानों के पास केरोसिन या डीजल चालित पंप है, उन्हे केरोसिन एवं डीजल की बढ़ती मूल्य के कारण खेती में नुकसान हो रहा था. ऐसे में 90 प्रतिशत अनुदान पर सौर आधारित पंप मिलना किसी वरदान से कम नहीं है. इससे किसानों को स्थायी रूप से सिंचाई के साधन मिल जायेंगे.

क्या है योजना

सरकार की ओर से किसानों को सबल बनाने के लिए उनकी आय में दो गुना वृद्धि करने के उद्देश्य से कई योजनाएं चलाई जा रही हैं. इसी के तहत झारखंड सरकार की कुसुम योजना के तहत ज्रेडा के माध्यम से किसानों को 90 प्रतिशत अनुदान के साथ सिंचाई के लिए सोलर पंप उपलब्ध कराए जा रहे हैं, ताकि किसान कम लागत में बेहतर तरीके से किसी भी मौसम में सिंचाई कर सकें.

इसे भी पढ़ें-पिता की मौत के बाद 8 साल की बच्ची से दुष्कर्म, ससुर व जेठ के बेटे पर लगाया आरोप

Related Articles

Back to top button