Lead NewsMain SliderNationalTOP SLIDER

राकेश टिकैत के आंसू से पिघले किसान, गाजीपुर बार्डर पर फिर से जुटने लगे किसान

टिकैत के ट्रिक से ध्वस्त हुई सीएम योगी की रणनीति

New delhi: गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद केंद्र व उत्तर प्रदेश सरकार की सख्ती से मुरझाता दिख रहे किसान आंदोलन को राकेश टिकैत के आंसूओं ने फिर से हर कर दिया है. पुलिस की सख्ती के बाद बोरिया-बिस्तर समेट रहे किसान फिर से गाजीपुर बार्डर पर तंबू गाड़ने लगे हैं. जो किसान घर लौटने के लिए आंदोलन स्थल से चल पड़े थे वह भी वापस पहुंच रहे हैं.

 

मालूम हो कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने किसानों को गाजीपुर बार्डर खाली करने का निर्देश था. जिसके बाद गुरुवार की देर शाम दल-बल के साथ पुलिस मौके पर पहुंची. जरूरी सुविधाएं बंद करने के साथ ही सख्ती से किसान नेताओं को आंदोलनस्थल खाली करने का निर्देश दिया. पुलिस की सख्ती देख बड़ी संख्या में किसान वहां से चलते बने. एसा लगने लगा था कि कुछ देर में आंदोलन खत्म हो जाएगा.

 

इसके बाद किसान नेता राकेश टिकैत अनशन पर बैठ गए और मीडिया से बात करते हुए रो पड़े. राकेश टिकैत का रोने वाला वीडियो वायरल हो गया. राकेश टिकैत ने रोते हुए कहा, सरकार कानून वापस ले, अन्यथा मैं यहीं फांसी लगा लूंगा. उन्होंने आंदोलन खत्म करने से इनकार कर दिया. इससे टिकैत के प्रति किसानों की सहानुभूति उभरी और घर लौट रहे किसानों ने गाजीपुर बार्डर का रूख कर लिया.

 

Catalyst IAS
ram janam hospital

वहीं राकेश टिकैत द्वारा भावुक होने वाले वीडियो के वायरल होने के बाद पश्चिमी यूपी में खलबली मच गई. भारतीय किसान यूनियन के चौधरी नरेश टिकैत ने शुक्रवार को मुजफ्फरनगर में महापंचायत का ऐलान कर दिया. वहीं राकेश टिकैत के समर्थन में सैकड़ों की संख्या में मेरठ, बिजनौर व बागपत से किसान ट्रैक्टरों के साथ गाजीपुर बॉर्डर पर कूच कर गए. हरियाणा के विभिन्न गांवों में टिकैत का समर्थन देखा गया. कई जगहों पर हरियाणा के किसान रात में सड़क पर उतर गये हैं.

 

The Royal’s
Sanjeevani

राकेश टिकैत का भावुक वीडियो वायरल होते ही मुजपफरनगर के सिसौली में राकेश टिकैत के घर के बाहर भारी संख्या में लोग जमा हो गए, वहीं आनन-फानन में भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने सिसौली में किसानों की पंचायत बुलाई और आज 11 बजे महापंचायत का ऐलान कर दिया. नरेश टिकैत ने किसानों से महापंचायत में शामिल होने का आहृवान किया.

आंदोलन स्थल पर जहां भारी संख्या में आरएएफ व पुलिस बल तैनात है. उधर, चैधरी नरेश टिकैत द्वारा महापंचायत का ऐलान करने के बाद मेरठ में पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया.  शिवाया टोल प्लाजा पर पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया. गाजीपुर बॉडर पर गाजियाबाद के अतिरिक्त मेरठ, बुलंदशहर, हापुड़ अमरोहा, मुरादाबाद, मैनपुरी, बागपत, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली समेत आसपास के सभी जिलों से पुलिस फोर्स बुलाई गई है.

राहुल ने किया समर्थन

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर राकेश टिकैत का समर्थन किया है. राहुल ने कहा है कि वह शांतिपूर्ण आंदोलन के पक्षधर हैं. इसके साथ पूर्व सीएम अखिलेश यादव व दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया ने भी केंद्र सरकार को घेरते हुए किसान आंदोलन का समर्थन किया.

 

टोल प्लाजा पर होगी खापों की महापंचायत

दिल्ली हिंसा मामले के बाद किसान आंदोलन में आई खटास को दूर करने के लिए खटकड़ टोल प्लाजा पर 30 जनवरी को महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर खापों की महापंचायत बुलाई गई है. इसमें दिल्ली हिंसा के पूरे मामले को लेकर अपना पक्ष रखा जाएगा. इसके बाद लोगों की शंकाएं दूर की जाएंगी और आंदोलन को फिर से मजबूती बनाने की रणनीति बनाई जाएगी.

 

Related Articles

Back to top button