Lead NewsNational

किसानों ने दिल्ली पुलिस से मनवा ली अपनी बात, 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड को ग्रीन सिग्नल देने को पुलिस राजी

New Delhi : आखिरकार पांच दौर की वार्ता के बाद दिल्ली पुलिस किसानों को 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने की इजाजत देने को राजी हो गयी है. इसकी जानकारी शनिवार को किसान नेताओं ने दी है.

शनिवार को दिल्ली पुलिस और किसान नेताओं के बीच हुई बैठक के बाद योगेंद्र यादव ने बताया कि इस बार 26 जनवरी को देश में पहली बार किसान गणतंत्र दिवस परेड होगी.

योगेंद्र यादव ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने किसानों की बातें मान ली हैं. किसान 26 जनवरी को ट्रैक्टर लेकर दिल्ली के अंदर जायेंगे और मार्च करेंगे. इसके लिए सारे बैरिकेड खोले जायेंगे.

इसे भी पढ़ें- आत्मनिर्भर भारत के लिए नार्थ-ईस्ट और असम का तेज विकास बहुत ही जरूरी : मोदी

ट्रैक्टर परेड के लिए बनेगी गाइडलाइन

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा लाये गये तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ किसान लगभग दो महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी कड़ी में किसानों ने 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली के आउटर रिंग रोड पर ट्रैक्टरों के साथ मार्च करने का एलान कर रखा है.

इसे लेकर दिल्ली पुलिस सख्त रवैया अपनायी हुई थी. दिल्ली पुलिस की कोशिश थी कि किसान दिल्ली की सीमाओं के बाहर ही अपना प्रदर्शन करें. इसके लिए किसान प्रतिनिधियों और दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के बीच पांच दौर की बैठक हुई.

शनिवार को पांचवें दौर की बैठक हुई, जिसके बाद किसान नेताओं ने बताया कि दिल्ली पुलिस किसानों को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने की इजाजत देने को राजी हो गयी है. ट्रैक्टर रैली के रूट को लेकर भी मोटे तौर पर सहमति बन गयी है.

योगेंद्र यादव ने कहा कि यह ट्रैक्टर रैली शांतिपूर्वक होगी और इस देश के गणतंत्र दिवस परेड पर या इस देश की सुरक्षा, आन-बान-शान पर कोई बुरा असर नहीं पड़ेगा.

किसान नेता गुरनाम चढूनी ने कहा कि ट्रैक्टर परेड को लेकर कुछ गाइडलाइन्स बनायी जायेंगी. उन्होंने सभी किसानों से शांति के साथ इस परेड का हिस्सा बनने और गाइडलाइन्स का पालन करने की अपील की है.

इसे भी पढ़ें- मार्च से नहीं चलेंगे 5, 10 और 100 रुपये के पुराने नोट!

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: