NationalTOP SLIDER

किसान आंदोलनः दो बड़े किसान संगठनों ने खत्म किया आंदोलन

New Delhi: दिल्ली में 26 जनवरी को हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद किसान आंदोलन से जुड़े संगठन अलग-अलग रुख अपना रहे हैं. किसान आंदोलन को बुधवार को बड़ा झटका लगा है. किसान आंदोलन में शामिल दो संगठनों ने खुद को आंदोलन से अलग कर लिया है. इनमें भारतीय किसान यूनियन और राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन शामिल हैं.
भारतीय किसान यूनियन के नेता भानु प्रताप सिंह ने कहा कि दिल्ली में कल जो हुआ उससे आहत हूं. लालकिला की घटना से परेशान हूं इसलिए धरना खत्म कर रहा हूं.

इसे भी पढें-किसान आंदोलन के समर्थन में राज्य के कई जिलों में ट्रैक्टर-मोटरसाइकिल रैली निकाली गयी

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढें-कुड़मी को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने का केंद्रीय सरना समिति ने किया विरोध, कहा- बगैर मापदंड तय किये ऐसा करना मजाक

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इधर कृषि कानूनों के विरोध में अभय सिंह चौटाला ने हरियाणा विधानसभा से इस्तीफा दे दिया है.
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर राजधानी दिल्ली में प्रदर्शनकारी किसानों ने जम कर उत्पात मचाया. तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर परेड निकाल रहे किसानों के एक बड़े समूह ने ट्रैक्टरों के साथ ऐतिहासिक लाल किले पर धावा बोल दिया और वहां धार्मिक झंडे लगा दिये.

Related Articles

Back to top button