JharkhandRanchi

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में 721 पदों पर नौकरी के लिये ठगों ने जारी किया विज्ञापन, विभाग ने बताया फर्जी

Ranchi. ठगों ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में 721 पदों पर नौकरी के लिये 8 जुलाई को विज्ञापन जारी किया. इसके मुताबिक जूनियर इंजीनियर और सहायक तकनीशियन ड्रिलिंग के पदों पर नियुक्ति की जायेगी. नियुक्ति सीधी भर्ती प्रतियोगिता के आधार पर होगी. विभाग के पास अब मामला पहुंचा है. उसने इसे फर्जी विज्ञापन बताया है.

इसे भी पढ़ें- कर्मचारी के पैसे लेकर फरार हुए दो ठेकेदार, भुगतान 1 लाख 65 हजार का करना था दिए केवल 22 हजार

मीडिया में सूचना जारी करते हुए कहा है कि विभाग की ओर से ऐसी कोई वेकैंसी नहीं निकाली गयी है. फिलहाल विभाग ने डीजीपी को लेटर लिखकर फर्जी विज्ञापन मामले में जांच कराये जाने का आग्रह किया है.

advt

600 रुपये फीस

सोशल मीडिया पर ठगों ने पेयजल विभाग के नाम पर विज्ञापन जारी किया था. इसमें कनीय अभियंता के 450 पदों पर नियुक्ति की जानकारी दी गयी. इसके लिये 4200 ग्रेड पे बताया गया. मेकेनिकल में 3 साल के डिप्लोमा औऱ ड्रिलिंग क्षेत्र में 1 साल का अनुभव मांगा गया. इसी तरह सहायक तकनीशियन ड्रिलिंग के 271 पदों पर बहाली किये जाने की बात कही गयी.

इसका ग्रेड पे 2400 रुपया कहा गया. मैट्रिक पास और दो साल के अनुभव के साथ आवेदन मंगाये गये. आवेदन करने वालों को 600 रुपये का बैंक चालान (आरक्षित कैटेगरी के लिये 450 रुपये) मांगा गया. इसके लिये एसबीआई, रांची के एक खाता संख्या 11059021058 (IFCS Code-SBIN0000167) में पैसे जमा करने को कहा गया.

कैसे पकड़ में आया मामला

इस विज्ञापन में एक दिलचस्प बात हुई. जो विज्ञापन जारी हुआ, उसमें आवेदकों से नेपाल हाउस के पते पर आवेदन मंगाया गया. इसी आधार पर कैंडिडेट्स ने अभियंता प्रमुख (एच/क्यू) पेयजल और स्वच्छता विभाग. झारखंड सरकार, नेपाल हाउस, रांची के पते पर आवेदन भेजना शुरु कर दिया. जब विभाग के पास भरे हुए आवेदन अगस्त के पहले सप्ताह से आने शुरु हुए, तब उसे इस फर्जीवाड़ा का पता चला.

कर्मचारी चयन आयोग करता है नियुक्ति

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग ने शुक्रवार को एक सूचना जारी की है. इसके मुताबिक विभाग में कनीय अभियंता और तृतीय वर्ग के कर्मचारियों की नियुक्ति राज्य कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से की जाती है. बाजार में जो विज्ञापन जारी हुआ है, वह फर्जी है.

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button