JamshedpurJharkhand

फर्जी बेलर जुगाड़ कर अशफाक करवाता था जमानत, पुलिस जुटी पहचान कर कार्रवाई करने में

Jamshedpur : मानगो के अरविंद हत्याकांड समेत एक दिन में चार आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने के मामले में पुलिस के हत्थे चढ़े से शेख अशफाक पर पूर्व में आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें चोरी-छिनतई और रंगदारी के मामले शामिल है. बिष्टुपुर थाना में दो और मानगो तथा साकची थाना में उस पर एक-एक मामला दर्ज है. इन चारो मामले में वह जेल जा चुका है और जमानत पर जेल से बाहर भी आया है, लेकिन उसका जमानत कोई रिश्तेदार या जान-पहचान वाला नहीं लेता था. पुलिस की जांच में सामने आईं है कि फर्जी बेलर का पैसे के बल पर जुगाड़ कर वह अपनी जमानत कराता है. फिर जेल से बाहर आकर आपराधिक घटना को अंजाम देता था. यह मामला सामने आने के बाद पुलिस अशफाक का जमानत लेने वाले की पहचान कर उसके खिलाफ कार्रवाई करने में जुटी है.

Advt

पड़ोसी जिले में नशे का सेवन कर शहर में करते थे अपराध

पुलिस जांच में यह भी बात सामने आई है कि अशफाक और सारिक ज्यादातर पड़ोसी जिले सरायकेला-खरसावां में ही नशे का सेवन करते थे. क्योंकि दोनों उसी जिले के कपाली के गौस नगर के रहने वाले हैं, लेकिन नशे की हालत में उन्होंने अपराधिक घटना को अंजाम जमशेदपुर में दिया. इस तरह के मामलों पर रोक कैसे लगाया जा सके, पुलिस इस पर विचार कर रही है. क्योंकि जमशेदपुर पुलिस शहर और आस पास तो नशे के खिलाफ अभियान चला रही है, लेकिन दूसरे जिले में नशेबाजी पर रोकथाम के उपाय करना पुलिस के लिए चुनौती साबित हो रही है, जो परेशानी का सबब बना हुआ है.

इसे भी पढ़ें – पलामू : विश्व एड्स दिवस पर जागरूकता शिविर, न्यायिक पदाधिकारी ने कहा- एड्स को लेकर ना पाले भ्रम

Advt

Related Articles

Back to top button