Dharm-Jyotish

आस्था: तिरुपति बालाजी मंदिर में भक्त ने चढ़ाई 6.5 किलो सोने की तलवार

NEW DELHI: आस्था से बढ़कर कुछ भी नहीं होता है, चाहे वह कितना अमीर हो या गरीब हो. आंध्र प्रदेश के मशहूर तिरुमला तिरुपति बालाजी मंदिर में एक भक्त ने साढ़े छह किलो की सोने की तलवार चढ़ा दी. इस तलवार की मौजूदा कीमत करीब चार करोड़ रुपये बताई जा रही है.

इसे भी पढ़ें : अमिताभ बच्चन ने शेयर किया कौन बनेगा करोड़पति 13 का प्रोमो, बोले- वापस आ रहे हैं…

श्रीनिवास दंपति ने सोमवार सुबह तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम के अधिकारियों को सोने की तलवार सौंपी. आज तक की एक रिपोर्ट के मुताबिक श्रीनिवास दंपति ने रविवार को तिरुमाला के कलेक्टिव गेस्ट हाउस में मीडिया के सामने करीब साढ़े छह किलोग्राम वजनी तलवार का प्रदर्शन किया. बताया जा रहा है कि श्रीनिवास दंपति पिछले एक साल से तलवार सौंपना चाहते थे, लेकिन कोरोना की वजह से संभव नहीं हो पाया था.

advt

भगवान वेंकटेश्वर स्वामी की चरणों में सोने की तलवार सौंपने वाले श्रीनिवास ने कहा कि मैं पिछले एक साल से सोने की तलवार ‘सूर्य कटारी’ को भेंट देना चाहता लेकिन कोरोना की वजह से मंदिर बंद था. सोमवार सुबह सुप्रभात सेवा के दौरान श्रीनिवास दंपति ने ‘सूर्य कटारी’ को टीटीडी अधिकारियों को सौंपी.

दिलचस्प बात ये है कि इस तलवार का नाम ‘सूर्य कटारी’ है. जानकारी के मुताबिक, इस तलवार को श्रीनिवास दंपत्ति ने तमिलनाडु के कोयंबटूर में विशेषज्ञ ज्वैलर्स द्वारा बनावाया है. इसे बनाने में करीब 6 महीने का वक्त लगा. साढ़े छह किलो वजनी इस सोने की तलवार को जब बनाया गया, तब इसकी कीमत 1.8 करोड़ थी, लेकिन अब इसकी कीमत करीब 4 करोड़ रुपये बताई गई है.

 

आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में स्थित तिरुमला की पहाड़ियों पर बना श्री वेंकटेश्वर मंदिर एक प्रसिद्ध हिंदू तीर्थ स्थल है. कई शताब्दी पहले बना यह मंदिर दक्षिण भारतीय वास्तुकला और शिल्प कला का अद्भूत उदाहरण है.  कहा जाता है कि चोल, होयसल और विजयनगर के राजाओं का आर्थिक रूप से इस मंदिर के निर्माण में खास योगदान था.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: