Main SliderNational

फेसबुक विवाद : फेसबुक इंडिया पब्लिक डायरेक्टर अंखी दास को धमकी, दर्ज करायी शिकायत

NewDelhi : फेसबुक को लेकर छिड़े विवाद के बीच एक और नयी बात सामने आयी है. फेसबुक इंडिया की पब्लिक डायरेक्टर अंखी दास को धमकी मिली है. जिसे लेकर अंखी दास ने दिल्ली पुलिस में एक शिकायत दर्ज करायी है. अंखी का कहना है कि जिन लोगों ने उन्हें धमकी दी है, उसके खिलाफ ही शिकायत की गयी है.

वहीं इस मामले में साउथ दिल्ली के डीसीपी का कहना है कि फेसबुक इंडिया की पब्लिक डायरेक्टर अंखी दास के मामले में FIR दर्ज नहीं की गयी है. अंखी दास ने शिकायत दर्ज करायी है, जिसकी जांच की जा रही है.

इसे भी पढ़ें – जानिये सबकुछ, कौन है फेसबुक की केटी हारबथ व आंखि दास, क्या संबंध है भाजपा से, क्यों हो रही चर्चा

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS

अंखी दास ने ये लिखा है शिकायत में

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

दर्ज करायी गयी शिकायत में अंखी दास ने ट्विटर और फेसबुक हैंडल का जिक्र किया है. और कहा है कि इसी के जरिये उन्हें धमकी दी गयी है. साथ ही लिखा है कि ऑनलाइन कंटेट के जरिये उनके जीवन को खतरा है. और उन्हें हिंसा का भी डर है. इस मामले में अंखी ने तुरंत FIR दर्द करने की मांग की है.

अंखी दास की शिकायत इस वक्त और भी तूल पकड़ सकती है, क्योंकि इस समय इंडिया में फेसबुक को लेकर अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के बाद सायासी पारा गर्म है.

दरअसल अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल में फेसबुक हेट-स्पीच रूल्स कोलाइड विद इंडियन पॉलिटिक्स की हेंडिंग से एक रिपोर्ट छपी है. रिपोर्ट के छपने के बाद से ही  भारत में सियासी हलचल है. साथ ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है.

इसे भी पढ़ें – भारत में कोरोनाःअधिक मौतें, बहुत कम टेस्टिंग और खराब रिकवरी रेट, फिर भी “बागो में बहार” है

अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल में छपी रिपोर्ट के बाद चढ़ा सियासी पारा

अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल में छपी रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के नेताओं के हेट स्पीच के मामले में फेसबुक भारत में ढिलाई दिखाता है. साथ ही रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि तेलंगाना बीजेपी नेता टी राजा सिंह का पोस्ट को लेकर भारत के फेसबुक कर्माचारियों ने रिपोर्ट दी थी. दरअसल बीजेपी नेता टी राजा ने अपने फेसबुक पोस्ट में मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा का समर्थन करने दावा किया गया था.

इसके बाद ही फेसबुक कर्मचारियों की ओर से सोशल मीडिया के शीर्ष अधिकारियों को बीजेपी नेता की हेट स्पीच की पूरी रिपोर्ट दी गयी थी. फिर भी कोई कार्रवाई नहीं की गयी.

अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल में छपी रिपोर्ट को आधार बताकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह फेसबुक को लेकर सवाल उठाते हुए ट्वीट किया था.

 दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर पूछा जुकरबर्ग से सवाल 

ट्वीट में दिग्विजय सिंह ने लिखा था कि, मार्क जुकरबर्ग क्या आप इस बारे में भी ध्यान दें. अंखी दास फेसबुक इंडिया में आपकी प्रमुख इंडिया में मुसलमानों के खिलाफ किये गये पोस्ट को सोशल मीडिया में अप्रूव करती हैं, जो ये साबित करता है कि जो उपदेश आप देते हैं, उसका ही पालन नहीं करते हैं. यह एक तथ्य है कि अंकिता दास और उनकी बहन दोनों भाजपा कार्यकर्ता हैं और मोदी का खुलकर समर्थन करते हैं.

दूसरी ओर राहुल गांधी ने भी  बीजेपी और RSS पर निशाना साधते हुए कहा है कि फैसबुक और वॉह्ट्सऐप दोनों ही इनके कब्जे में हैं. और इसी के जरिये ये नफरत फैलाने का काम करते हैं.

इसे भी पढ़ें – टेरर फंडिंग मामले में अंतरिम राहत का आदेश 10 सितम्बर तक बढ़ा, हाईकोर्ट ने पास किया जनरल ऑर्डर

9 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button