ChatraCrime NewsHazaribaghJharkhand

रात के अंधेरे में होती थी विस्फोटक की सप्लाइ, दो गिरफ्तार

विज्ञापन

Simaria : सिमरिया पुलिस, सीआरपीएफ 190 बटालियन, बिकॉय जगुवार और कोबरा बटालियन द्वारा उग्रवादियों के खिलाफ चलाये जा रहे संयुक्त एलआरपी अभियान में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उनके पास से भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद की गयी है.

पुलिस ने बताया कि 50 पॉवर जिलेटिन, 54 डेटोनेटर तथा 6 किलो पांच सौ ग्राम अमोनीनियम नाइट्रेट के अलावा एक बजाज मोटरसाइकिल के साथ मनातू गांव निवासी राजकुमार साव को गिरफ्तार किया गया. उसकी निशानदेही पर जितेंद्र साव नामक व्यक्ति पकड़ा गया.

इसे भी पढ़ें :आज से बदल रहे इन नियमों का आप पर होगा सीधा असर

थाना प्रभारी गुलाम सरवर ने बताया कि क्षेत्र में उग्रवादियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत रात्रि को मनातू गांव निवासी राजकुमार तिलरा से मोटरसाइकिल पर बोरी में लाद कर विस्फोटक समान मनातू की ओर आ रहा था. पुलिस को शक होने पर पहले रोका और जांच की गयी.

मौजूद डॉग स्क्वायड द्वारा जांच करने पर बताया कि उक्त बोरी में विस्फोटक समान भरा है. त्वरित कार्रवाई करते हुए राजकुमार साव को गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार राजकुमार से पूछताछ करने पर बताया कि यह विस्फोटक कोयला उत्खनन के लिए थाना इचाक हजारीबाग के डुमरोन तिलरा गांव से जितेंद्र साव के पास से ला रहे हैं.

राजकुमार साव की निशानदेही पर तिलरा गांव के जितेंद्र साव को गिरफ्तार कर लिया गया. ही राजेश नामक युवक फरार हो गया. गिरफ्तार दोनों युवक को विस्फोटक अधिनियम के तहत चतरा जेल भेज दिया गया है.
अभियान में रामबृक्ष राम थाना प्रभारी कुन्दा, पीयूष कुमार पुलिस निरीक्षक सीआरपीएफ 22 बटालियन, हवलदार सुनील उरांव, आरक्षी अभिजीत कुमार पांडेय के अलावे सैट के शसस्त्र बल मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें :कोडरमा : सेवानिवृत कॉलेज कर्मी के घर से रहस्यमय तरीके से लाखों के गहने की चोरी

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: