न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दवा बनाने के दौरान हुआ विस्फोट, झोला छाप डॉक्टर की मौत

163

Ranchi: दूसरों की बीमारी के इलाज के लिए दवा बनाना एक डॉक्टर को महंगा पड़ गया. लातेहार जिले का झोला छाप डॉक्टर दवा बनाने के दौरान अचानक आग लग जाने से 50 वर्षीय व्यक्ति फकरुद्दीन खान बुरी तरह झुलस गया. जिसके बाद उसे प्राथमिक इलाज के लिए लातेहार सदर अस्पताल ले जाया गया. जहां उसकी गंभीर स्थिती को देखते हुए रिम्स रेफर कर दिया गया. रिम्स के बर्न वार्ड में डॉ आरएस शर्मा के यूनिट में मरीज का इलाज चल रहा था. इलाज के दौरान रिम्स में उसकी मौत हो गयी.  जिसके बाद शव का पोस्मार्टम कर उसके परिजन को सौंप दिया गया.

इसे भी पढ़ेंः100 नहीं 200 फीसदी सफल होगी 5 जुलाई की बंदी: हेमंत सोरेन

खुजली की दवा बनाने के दौरान झुलसा

पुलिस के अनुसार मृतक फकरूद्दीन खुजली की दवा बना कर ग्रामीणों को बेचा करता था. दवा के लिए इस्तेमाल किये जाने वाला गंधक सोडा और कोयला के कारण विस्फोट हुआ. जिसके बाद वह घायल हो गया था. संवेदनशील पदार्थों की खरीदारी वह पलामू से करता था जो पदार्थ प्रतिबंधित है. वहीं परिजनों की माने तो वह हमेशा दवा बनाया करता था. दवा बनाने के दौरान विस्फोट हुआ और वह बुरे तरीके से झुलस गया. वहीं मृत्क की पत्नी और परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: