JharkhandRanchi

कार्यकारी समिति प्रमुख नहीं फहरा सकेंगे तिरंगा, ग्रामीण विकास विभाग ने जारी किया आदेश

Ranchi : इस गणतंत्र दिवस पर कार्यकारी समिति के प्रमुख तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे. राज्य में चूंकि पंचायत व्यवस्था भंग हो चुकी है. उसकी जगह अब कार्यकारी समिति कार्यरत है. त्रिस्तरीय व्यवस्था के तहत पंचायतों में कार्यकारी समिति का गठन राज्य में किया गया है. सोमवार को ग्रामीण विकास विभाग ने गणतंत्र दिवस के मौके पर झंडोत्तोलन के संबंध में आदेश जारी किया है. सभी जिलों के डीसी को सूचित किया गया है कि त्रिस्तरीय कार्यकारी समिति के प्रमुख तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे. जिला स्तर पर डीडीसी सह जिला परिषद के सीइओ, पंचायत समिति स्तर पर बीडीओ और पंचायत स्तर पर पंचायत सचिव ही झंडोत्तोलन करेंगे. लेटर की प्रतिलिपि डीडीसी, डीपीआरओ को भी भेजी गयी है.

इसे भी पढ़ें :सद्भावना की मिसाल :  मुस्लिम दंपती ने राम मंदिर निर्माण के लिए 1.51 लाख रुपये दिये, अयोध्या में जाकर मत्था टेका

राज्य में त्रिस्तरीय पंचायतों के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों का कार्य काल समाप्त हो चुका है. पंचायतें भंग हो चुकी हैं. कोरोना संकट औऱ दूसरे कारणों से राज्य में पिछले साल पंचायत चुनाव संपन्न नहीं कराये जा सके थे. तात्कालिक व्यवस्था के तहत त्रिस्तरीय पंचायतों के दैनिक कार्यों के संपादन के लिए कार्यकारी समिति का गठन किया गया है. समिति गठित होने के बाद झंडोत्तोलन के संबंध में कई जिलों से विभाग से जानकारी मांगी जा रही थी. इसी संबंध में विभाग ने आदेश जारी किया है.

पहले मुखिया औऱ अध्यक्ष को था अधिकार

गौरतलब है कि राज्य में पंचायत चुनाव नहीं होने के कारण कार्यकारी समिति का गठन किया गया है. इससे पूर्व जनप्रतिनिधि के तौर पर मुखिया, पंचायत समिति प्रमुख औऱ जिला परिषद अध्यक्ष झंडोत्तोलन करते थे. पर इस बार 26 जनवरी को झंडा फहराने का मौका उन्हें नहीं मिलेगा. बीडीओ से लेकर डीडीसी के हाथों ही इस बार जिले से लेकर पंचायत तक झंडोत्तोलन किया जाना है.

इसे भी पढ़ें :अब 1 फरवरी को संसद मार्च करेंगे आंदोलनकारी किसान

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: