न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जेईई मेंस 2019 के पहले चरण की परीक्षा आठ से 12 जनवरी तक, 31 को घोषित होंगे परिणाम

नौ को रांची, धनबाद, बोकारो और जमशेदपुर में होगी परीक्षा, झारखंड से 50 हजार परीक्षार्थी देंगे परीक्षा

1,714

Ranchi: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की तरफ से जेईई मेंस 2019 की परीक्षा शुरू हो रही है. आठ जनवरी से 12 जनवरी में 2019 के पहले चरण की परीक्षा ली जा रही है. कंप्यूटर आधारित परीक्षा देश भर के 800 से अधिक शहरों में होंगी. झारखंड में भी रांची, बोकारो, धनबाद और जमशेदपुर के आयन जोन में परीक्षा ली जायेगी. झारखंड से 50 हजार से अधिक परीक्षार्थी देश भर के आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपल आइटी और अन्य संस्थानों में दाखिले को लेकर अपना भाग्य एनटीए के जेईई मेंस में आजमायेंगे.

देशभर में 9.5 लाख बच्चे देंगे परीक्षा

जेईई मेंस के पहले चरण की परीक्षा को लेकर 9.5 लाख बच्चों ने देशभर में अपना पंजीकरण कराया है. जनवरी-2019 की परीक्षा के परिणाम 31 जनवरी को घोषित किए जायेंगे. पिछली बार जेईई मेंस में सामान्य वर्ग का कट ऑफ मार्क्स 74 गया था. यह 2017 की तुलना में 40 अंक कम है. झारखंड से 2018 में 5000 से अधिक बच्चों ने जेईई एडवांस में अपनी जगह बनायी थी. केंद्र सरकार ने 2018 में सीबीएसइ की तरफ से संचालित होनेवाली जेईई मेंस की परीक्षा का संचालन करने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी का गठन किया था. केंद्र सरकार ने वर्ष में दो बार जेईई मेंस की परीक्षा लेने का निर्णय लिया था. कुल मिला कर एक अभ्यर्थी के लिए तीन बार ही जेईई मेंस देने का विकल्प सरकार की तरफ से दिया गया है.

तीन घंटे की होगी कंप्यूटर आधारित परीक्षा

जेईई मेंस 2019 के पहले चरण की परीक्षा तीन घंटे की होगी. ऑनलाइन आधारित परीक्षा के लिए कंप्यूटर आधारित एग्जाम लिया जायेगा. एक अभ्यर्थी को जेईई मेंस-2019 के प्रवेश पत्र के अलावा आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस जैसे किसी एक पहचान पत्र को परीक्षा केंद्र में ले जाना अनिवार्य है. बॉल पेन के अलावा किसी अन्य तरह के इलेक्ट्रोनिक गजट, मोबाइल, ईयर फोन तथा इंस्ट्रूमेंट बॉक्स को केंद्र तक ले जाने पर पूरी तरह मनाही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: