GiridihJharkhandKhas-KhabarKodermalok sabha election 2019

कोडरमा लोकसभाः वज्रगृह के बजाय कलस्टरों में रातभर रखी गयीं 139 ईवीएम मशीनें, सवालों के घेरे में आया प्रशासन  

Giridih:  गिरिडीह व कोडरमा के जिन 139 ईवीएम को लेकर झाविमो व पार्टी सुप्रीमो बाबूलाल मंराडी जिला प्रशासन के खिलाफ खड़े हो गये हैं, वह सारे ईवीएम लेकर मतदान कर्मी दुसरे दिन मंगलवार को पचंबा के बाजार समिति स्थित वज्रगृह लौटे.

वज्रगृह में तमाम ईवीएम को सुरक्षित रखा. हालांकि इन ईवीएम के साथ कई वैसे ईवीएम भी थे, जो चुनाव के बाद सोमवार तक वज्रगृह नहीं लौट पाये थे. इधर कोडरमा लोस के विभिन्न मतदान केन्द्रों से लौटे ईवीएम के बाद जिला निर्वाचन पदाधिकारी राजेश पाठक ने राहत की सांस ली.

इसे भी पढ़ेंः आनेवाले पांच दिनों में दो से तीन डिग्री बढ़ेगा तापमान, मेदिनीनगर में तापमान 42 डिग्री सेल्सियस होने की संभावना

Catalyst IAS
ram janam hospital

लेकिन विवाद का दौर थमा नहीं है. क्योंकि पार्टी सुप्रीमो और पार्टी के चुनाव अभिकर्ता अब भी यह मानने को तैयार नहीं कि प्रशासन का भाजपा के साथ साठगांट नहीं है. और बिना उनकी सहमति के वज्रगृह के बजाय कलस्टरों में ईवीएम रखी गयी.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

लिहाजा, प्रत्याशी व चुनाव अभिकर्ता के बगैर अनुमति के कलस्टरों में ईवीएम रखवाने के बाद दोनों जिला प्रशासन के भूमिका पर सवाल खड़े होना लाजिमी है. लोग सवाल कर रह हैं कि आखिर किस परिस्थति में अधिकारियों ने कलस्टरों में ईवीएम को रात भर के लिए रखवाया.

इसे भी पढ़ेंः 10 माह बाद भी निगम लागू नहीं करा सका है 0n street और Off street पार्किंग पॉलिसी

 

Related Articles

Back to top button