Jamshedpur

वर्षा हत्याकांड में एएसआई धर्मेंद्र की संलिप्तता के सबूत मिले, आज हो सकता है खुलासा

Jamshedpur : बिष्टूपुर की रहने वाली वर्षा पटेल की हत्या में शक की सूई एएसआई धर्मेंद्र सिंह के इर्द-गिर्द ही घूम रही है. जांच में मिले तथ्यों के आधार पर ही पुलिस टीम उसे बिहार से लेकर शनिवार को जमशेदपुर पहुंची है. उससे एसएसपी डॉ एम तमिल वाणन ने भी काफी देर तक पूछताछ की. उसने वर्षा के बारे में कई बातें भी बताई है. उसके साथ घूमने-फिरने की बात को भी स्वीकार किया है. पुलिस को गोलमुरी पुलिस लाइन स्थित बैरक में धर्मेंद्र के कमरे से बिल्कुल वैसा ही एक बोरा मिला है जैसे बोरे में बांधकर वर्षा पटेल की लाश को तालाब में फेंका गया था इसे धर्मेंद्र की हत्याकांड में संलिप्तता का पुख्ता सबूत माना जा रहा है.

एएसआई का मोबाइल ढूंढ रही पुलिस

एएसआई धर्मेंद्र सिंह को पुलिस बिहार से तो गिरफ्तार करके लेकर आ चुकी है, लेकिन उसने अपने मोबाइल के बारे में पुलिस को कुछ भी नहीं बताया है. एएसआई को लग रहा है कि कॉल डिटेल के आधार पर वह फंस सकता है. हालांकि पुलिस इस मामले में कई बिंदुओं पर जांच कर रही है. जांच में यह साफ हो रहा है कि इस हत्याकांड में धर्मेंद्र की संलिप्तता है.

घटना के दूसरे दिन से ही वह छुट्टी पर क्यों गया

वर्षा हत्याकांड में पुलिस ने यह जानना चाहा कि आखिर 13 नवंबर से ही धर्मेंद्र छुट्टी पर क्यों गया है. 12 से वर्षा लापता थी और उसका शव टेल्को तालाब में 17 नवंबर को बरामद हुआ था. घटना के बाद से ही यह साफ हो गया था मामले में एएसआई का हाथ है. वर्षा की बहन से लेकर आस-पास में रहने वाले लोगों की भी शक की सूई एएसआई की तरफ ही थी.

गला दबाकर की गई थी हत्या

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यह खुलासा पहले ही हो चुका है कि वर्षा की हत्या गला दबाकर दी गई थी. उसकी हत्या करने के बाद ही शव को बोरे में भरकर तालाब में फेंका गया था. जब शव सड़कर और फूलकर ऊपर आ गया, तब दुर्गंध आने से लोगों को इसकी जानकारी मिली थी. उसके बाद पुलिस ने बोरा बंद शव को बरामद किया था.

आज खुलासा कर सकती है पुलिस

पूरे मामले का खुलासा रविवार को ही पुलिस कर सकती है. देर रात तक हुई पूछताछ में पुलिस को कई महत्वपूर्ण जानकारियां भी हाथ लगी है. उसके हिसाब से ही पुलिस मामले की जांच रिपोर्ट तैयार कर रही है.

इसे भी  पढ़ें- प्यार में दो बच्चे की मां ने युवक पर फेंका तेजाब, शादी से इन्कार करने पर थी नाराज

Related Articles

Back to top button