न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हर दिन चार वार्डों का दौरा करे टीम, सफाई कार्य प्रभावित हुआ, तो एमएसडब्ल्यू पर लगेगा जुर्माना : नगर आयुक्त

396

Ranchi : स्वच्छ भारत मिशन के तहत सिटीजन फीडबैक में रांची शहर को पहला स्थान तो मिला है, लेकिन अब चुनौती यह है कि इसे कैसे बरकरार रखा जाये. दूसरी ओर, हाल के दिनों में रांची एमएसडब्ल्यू (रांची नगर निगम और एस्सेल इन्फ्रा का ज्वॉइंट वेंचर) द्वारा संचालित कई मिनी सब-स्टेशनों में होनेवाली हड़तालों से शहर की सफाई व्यवस्था भी चरमराने लगी है. इसी स्थिति से निपटने के लिए अब नगर आयुक्त शांतनु अग्रहरि ने निगम के अधिकारियों को प्रतिदिन चार वार्डों में स्थित एमटीएस और पार्कों का दौरा करने का निर्देश दिया है. वहीं, शहर की सफाई व्यवस्था को सामान्य बनाने के लिए एमएसडब्ल्यू को कहा है कि वह कुल 53 वार्डों तक कूड़ा उठाने के काम को जल्द पूरा करे.

इसे भी पढ़ें- प्लस टू विद्यालयों में 11 स्वीकृत विषयों के अलावा किसी भी दूसरे विषय में नहीं लिया जाये एडमिशन :…

नगर आयुक्त ने किया एमटीएस और पार्कों का दौरा

शहर की सफाई व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने के लिए नगर आयुक्त ने बुधवार को मोरहाबादी और खेलगांव एमटीएस सहित पार्कों और तालाबों का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने मोरहाबादी स्थित मैदान, चिल्ड्रेन पार्क, दिव्यायन तालाब, खेलगांव एमटीएस, जोड़ा तालाब, निगम पार्क आदि का निरीक्षण किया. नगर आयुक्त ने तालाबों की सफाई कराने, खेलगांव एमटीएस में खराब पड़े टाटा एस वाहनों को ठीक करने और यहां स्टोर हुए कचरे से निकलनेवाले जहरीले पानी को सही तरीके से निपटाने का आदेश दिया. मालूम हो कि कुछ दिनों पहले खेलगांव स्थित मिनी ट्रांसफर स्टेशन ने आसपास के इलाके में पानी को जहरीला बना दिया. यहां निष्पादित होनेवाले कचरे से निकलनेवाला जहरीला पानी रिस कर भूमि के अंदर जा रहा है. इससे इलाके में स्थित कुएं का पानी जहरीला हो रहा है.

इसे भी पढ़ें- झारखंड में पांच नये एकीकृत डे केयर केंद्र बनेंगे : निधि खरे

प्रतिदिन चार वार्डों का करेगी निगम की टीम

नगर आयुक्त ने निर्देश दिया है कि निगम के अधिकारियों की एक टीम प्रतिदिन चार वार्डों में एमटीएस, पार्कों, सड़कों की स्थिति का जायजा लेने जायेगी. इस दौरान अगर इन एमटीएस या पार्कों में कोई गड़बड़ी दिखती है, तो जो भी उचित कार्रवाई होगी, की जायेगी.

भविष्य में हुई हड़ताल, तो वसूला जायेगा जुर्माना

नगर आयुक्त ने कहा कि हड़ताल का एक प्रमुख कारण रांची एमएसडब्ल्यू द्वारा सफाईकर्मियों को समय पर वेतन नहीं दिया जाना है. ऐसे में अगर भविष्य में कभी भी कंपनी की किसी लापरवाही से हड़ताल की स्थिति बनती है, तो उस दशा में उनसे जुर्माना वसूला जायेगा.

इसे भी पढ़ें- पुलिस के संरक्षण में हर चौक-चौराहे पर ऑटो से एजेंट कर रहे अवैध वसूली!

53 वार्डों से कचरा उठाये रांची एमएसडब्ल्यू

शहर के सभी घरों से डोर डू डोर कचरा उठाव नहीं होने की समस्या को लेकर बुधवार को नगर आयुक्त कार्यालय में कंपनी के अधिकारियों संग बैठक भी की गयी. बैठक में नगर आयुक्त ने निर्देश दिया कि रांची की सफाई व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त रखने के लिए और अधिक प्रयास करते हुए कंपनी सभी वार्डों से डोर टू डोर कचरे का उठाव यथाशीघ्र करे. मालूम हो कि अभी तक कंपनी कुल 33 वार्डों से ही कचरे का उठाव करती रही है. शेष 12 वार्डो में कचरा उठाने का काम रांची नगर निगम करता है. जबकि कंपनी को इस वर्ष जनवरी माह तक ही सभी वार्डों में कचरा उठाने का काम शुरू कर देना था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: