न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

संत मरियम स्कूल में हुआ सम्मुख कार्यक्रम, बच्चों ने सीखी कई बातें

इस संवाद में कक्षा छह से दस तक के बच्चों ने विद्वानों से कई प्रश्न किये और विभिन्न मुद्दों पर अपनी जिज्ञासायें भी प्रकट कीं.

14

Palamu :  जिले के संत मरियम स्कूल में शुक्रवार की रात ‘सम्मुख’ कार्यक्रम के तहत देश-विदेश से आये विद्वानों और बच्चों के बीच संवाद आयोजित किया गया. इस संवाद में कक्षा छह से दस तक के बच्चों ने विद्वानों से कई प्रश्न किये और विभिन्न मुद्दों पर अपनी जिज्ञासायें भी प्रकट कीं. इस कार्यक्रम में आये अतिथियों का स्वागत स्कूल के निदेशक और झारखंड माटी कला बोर्ड के सदस्य अविनाश देव ने गुलदस्ता,शॉल व मिट्टी से बने बर्तन देकर किया. कार्यक्रम का संचालन एस बी शाहा ने किया. इस अवसर पर बच्चों के साथ शिक्षक और कर्मचारी भी उपस्थित थे.

इस अवसर पर जाधवपुर विश्वविद्यालय कोलकाता के प्रोफेसर नितिन चट्टोपाध्याय ने कहा कि बच्चों को ठग विद्या दूर रहना चाहिए और साथ ही कहा कि जो भी करें पूरी ईमानदारी से करें. इसके अलावा उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार रोकने का सबसे सरल उपाय यह है कि खुद ईमानदार रहें और बच्चों से दो फिल्में ‘थ्री इडियट्स’ और ‘तारे जमीन पर’  देखने को भी कहा.

वहीं कार्यक्रम में आई आई टी रूड़की के सेवानिवृत्त प्रोफेसर गौरी शंकर सिंह ने कहा कि ध्यान के भटकाव को रोकने का सबसे अच्छा तरीका मनवांछित विषय को पढ़ना है और जब एकाग्रता टूटने लगे तो तुरंत वह काम करना चाहिए, जिसमें गहरी रुचि हो. वहीं इलाहाबाद विश्वविद्यालय में हिन्दी के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ कुमार वीरेन्द्र ने कहा कि यह धरती सांस लेने लायक बनी रह सके इसके लिए आवश्यक है कि बच्चे सतत विकास का देशज अर्थ ग्रहण करें. दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रो सुमित मंडल ने बच्चों से कहा कि जो बनना चाहते हो, उसी के लिए प्रयत्न करो, लेकिन यह भी ध्यान रखो कि बेहतर इंसान बनना ज्यादा जरूरी है. आई आई टी पटना के प्रोफेसर ओम प्रकाश ने कहा कि बच्चे शिक्षकों को अपना आदर्श माने और शिक्षक भी बच्चों को स्नेह दें.

इसे भी पढ़ें – थर्मल पावर प्लांट के लिए पानी बड़ी चुनौती, तीन पावर प्लांट को चाहिए 48 हजार क्यूबिक मीटर पानी/ घंटा

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: