न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राजधानी में बढ़ी इवेंट डेकोरेटर्स की मांग, त्योहारों में भी लोग लेते हैं इनकी मदद

16

Chhaya

Ranchi : दिवाली आते ही गृहिणियों की यह समस्या रहती है कि वे अपने घर को कैसे अलग लुक दें. हर कोई चाहता है कि दिवाली के दिन उनका घर कुछ अलग और खास दिखे, क्योंकि दिवाली त्योहार ही ऐसा है, जिसमें घर की सुख-समृद्धि की कामना की जाती है. हर साल दिवाली को लेकर अलग-अलग तरीके से घर सजाने का चलन रहता है. इस साल भी काफी कुछ नया है. राजधानी रांची के कई इंवेट मैनेजमेंट कंपनियों से बात करने पर पता चला कि हर साल मौसम और फैशन के अनुसार घर की साज-सज्जा होती है. इसमें वॉल कलर से लेकर आर्ट एंड क्राफ्ट तक लोगों के मिजाज और मांग के अनुसार दिया जाता है.

इसे भी पढ़ें- छह वर्षों में राजधानी के आठ से अधिक चौक-चौराहों का काम नहीं हुआ पूरा

दिवाली पर लोग ले रहे डोकोरेटर्स की मदद

ड्रीम डेकोरेशन की संचालिका सुमन तोदी ने बताया कि पहले राजधानीवासियों को इवेंट मैनेजमेंट कंपनियों के बारे में अधिक जानकारी नहीं थी, लेकिन अब छोटे-छोटे आयोजनों के लिए भी लोग होम डेकोरेटर्स की सहायता ले रहे हैं. इन्होंने बताया कि इस साल दिवाली को लेकर भी लोग डेकोरेटर्स की सहायता ले रहे हैं. राजधानी में इवेंट डेकोरेशन के लिए अमूमन पांच हजार से दस हजार रुपये का ऑर्डर लिया जाता है.

फ्लोरल लुक की बढ़ी मांग

सुमन ने बताया कि पहले सिर्फ गर्मियों में ही लोग घर को फ्लोरल लुक देना पसंद करते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है. इस साल दिवाली में जितने भी ऑर्डर आये हैं, उनमें अधिकतर लोग फ्लोरल लुक ही पसंद कर रहे हैं. फ्लोरल प्रिंट न सिर्फ लोग दीवारों पर, बल्कि बेड शीट, रजाई, पिलो कवर आदि में भी पसंद कर रहे हैं. अन्य डेकोरेटर चरण बोरा ने बताया कि फ्लोरल प्रिंट की मांग को देखते हुए बाजार में बेड शीट, क्विल्ट आदि फ्लोरल प्रिंट के ही आ रहे हैं. इसके साथ ही जियोमैट्री डिजाइन की भी मांग है.

इसे भी पढ़ें- ग्रामीणों को कौन पूछे, यहां मवेशियों को भी नहीं मिल रहा पर्याप्त पानी

palamu_12

टायर सेट और हरिकेन से सजायें दीवार

अक्षदा होम के डेकोरेटर गिरीश सिपोरका ने बताया कि लोग आजकल चाहते है कि वॉल कलर, पर्दे के साथ ही घर की दीवार और कोने भी लोगों से बात करें. ऐसे में मेटल की बनीं कई आकर्षक वस्तुओं से दीवारों को सजाया जा सकता है. इसमें टायर सेट काफी अलग है, जिसके अंदर कैंडल भी जला सकते हैं, लेकिन बिना कैंडल जलाये भी इसके हर कोने से रोशनी निकलती प्रतीत होती है. बाजार में इसकी कीमत 950 रुपये से 3000 रुपये तक है. मैपल लीफ और ट्री कट लिये हरिकेन को आप किसी भी टेबल पर रखकर कैंडल जला सकते हैं, जिनकी कीमत 2000 रुपये से शुरू होती है. गिरीश ने बताया कि इन सबके अलावा कैंडल होल्डर, लोटस आदि से भी घर के कोने को सजाया जा सकता है.

राजधानी में बढ़ी इवेंट डेकोरेटर्स की मांग, त्योहारों में भी लोग लेते हैं इनकी मदद

इसे भी पढ़ें- 1700 करोड़ का प्रोजेक्ट चार साल में पूरा नहीं, अब वर्ल्ड बैंक से लोन लेकर बनेंगे 25 ग्रिड, 2600…

कल्पवृक्ष को लगायें मुख्यद्वार के समक्ष

गिरीश ने बताया कि इस साल मेटल के कल्पवृक्ष की मांग घर सजाने के लिए काफी की जा रही है. बाजार में यह आसानी से उपलब्ध भी है, जिसे घर के मुख्यद्वार के समक्ष लगाया जा सकता है. वहीं, इसे ऐसे कोने पर भी लगाया जा सकता है, जहां देखने में यह आकर्षक लगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: