JharkhandRanchi

मुख्यमंत्री को हत्या की धमकी के मामले का 5 महीने बाद भी उद्भेदन नहीं होना सरकार की नाकामी: भाजपा

Ranchi: भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि वर्ष की विदाई के अंत में भी मुख्यमंत्री की हत्या की धमकी के मामले का खुलासा नहीं हो पाना सिस्टम पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है. प्रतुल ने कहा कि दो ईमेल के जरिए 8 और 17 जुलाई को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, उनके परिजनों और करीबी अधिकारियों की हत्या की धमकी दी गयी थी. रांची के साइबर थाना में मामला दर्ज कराया गया था और उसके बाद मामला सीआइडी को सौंप दिया गया था.

प्रतुल ने कहा कि दोनों ईमेल का सर्वर जर्मनी और स्विट्जरलैंड था. अब लगभग साढे 5 महीने के बाद सीआइडी ने जर्मनी और स्विट्जरलैंड को अनुरोध पत्र भेजने के लिए अदालत से आग्रह करने का फैसला लिया है. जब मुख्यमंत्री की हत्या की धमकी के मामले में अनुसंधान इतनी धीमी गति से चल रहा हो और 5 महीने से ज़्यादा समय के बाद भी  उद्भेदन नहीं हो पाया हो तो आम जनों की स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है.

advt

प्रतुल ने कहा कि पुलिस के आला अधिकारी जो भी दावा करें लेकिन राज्य में अराजकता का माहौल कायम है. प्रतुल ने कहा कि पुलिस के जवान बीहड़ इलाकों में विषम परिस्थितियों में आज भी नक्सलियों से लोहा ले रहे हैं. लेकिन सरकार के स्तर पर अनिश्चितता की स्थिति और ठोस निर्णय न लिये जाने के कारण कारण इनका भी मनोबल गिर सकता है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: