NationalWorld

एटिंगा के पीएम ने कहा, #MehulChoksi crook है, अदालती कार्यवाही खत्म होते ही करेंगे भारत प्रत्यर्पण

विज्ञापन

NewDelhi : एंटीगा और बारबुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) फ्रॉड के आरोपी मेहुल चोकसी को धोखेबाज करार दिया है.  न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में भाग लेने न्यू यॉर्क पहुंचे गैस्टन ब्राउन ने कहा कि उन्हें चोकसी की करतूतों के बारे में पर्याप्त जानकारी मिली है.  कहा कि मुझे पर्याप्त जानकारी मिली है कि मेहुल चोकसी  क्रुक है.  उसका मामला अदालत में  है. अभी तो हम कुछ नहीं कर सकते, लेकिन इतना कहना चाहता हूं कि हमारा मेहुल चोकसी को एंटिगा और बारबुडा में रखने का इरादा नहीं है.

यह पूछे जाने पर कि क्या वह भारतीय अधिकारियों को एंटिगा में चोकसी से पूछताछ की अनुमति दी जायेगी? इस पर ब्राउन ने कहा कि भारतीय अधिकारी जब चाहें आकर पूछताछ कर सकते हैं, बशर्ते चोकसी भी पूछताछ में शामिल होना चाहता हो.  उन्होंने कहा कि इस केस में अभी उनकी सरकार कुछ नहीं कर सकती है क्योंकि मामला अदालत में है.

 

advt

इसे भी पढ़ें : #PMModi की #EconomicAdvisoryCouncil से दो सलाहकार हटाये गये, करते रहे थे सरकार की आलोचना

पता नहीं था कि चोकसी धोखेबाज है, वरना  नागरिकता नहीं दी जाती

इस क्रम में ब्राउन ने डीडी न्यूज के समक्ष स्वीकार किया कि उन्हें पता नहीं था कि चोकसी धोखेबाज है, वरना उसे एंटीगा की नागरिकता नहीं दी जाती.  कहा कि उसे भारत प्रत्यर्पित किया जायेगा क्योंकि वह एंटिगा का सम्मान नहीं बढ़ा रहा है.  डीडी न्यूज से बात करते हुए ब्राउन ने कहा, हमारे देश में एक स्वतंत्र न्यायिक व्यवस्था है. अभी  यह मामला अदालत के सामने है.   सरकार के पास कोई अधिकार नहीं है.  अपराधियों के लिए भी एक प्रक्रिया पूरी करनी होती है, चोकसी ने कई बार अपील की और जब तक उसके सारी अपील पर सुनवाई खत्म नहीं हो जाती, हम कुछ नहीं कर सकते.  लेकिन एक बार उसकी सारी अपील खत्म हो जायेगी,  तो उसे जरूर भारत प्रत्यर्पित किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : #CBI में स्पेशल डायरेक्टर रहे राकेश अस्थाना के खिलाफ घूस लेने की जांच कर रहे अधिकारी ने मांगा #VRS, टाइमिंग पर सवाल

14 हजार करोड़ रुपये का चूना लगाया

मेहुल चोकसी और उसके भांजे नीरव मोदी ने फर्जी लेटर ऑफ अंडस्टैंडिंग्स (एओयू) के जरिए पंजाब नैशनल बैंक की मुंबई स्थित बार्डी हाउस शाखा को करीब 14 हजार करोड़ रुपये का चूना लगाया है.  इस घोटाले का भंडाफोड़ होने पर दोनों भारत छोड़ विदेश भाग गये. चोकसी को 15 जनवरी, 2018 को एंटिगा और बारबूडा की नागरिकता मिल गई। उसने इस वर्ष 17 जून को बॉम्बे हाई कोर्ट में एक हलफनामा दायर कर कहा कि वह अभी एंटीगा में रह रहा है और पीएनबी घोटाले की जांच में सहयोग करना चाहता है.

adv

इसे भी पढ़ें : सुनिये सरकार, लाठी चार्ज पर क्या कह रहे हैं लोग, कैसे कोस रहे हैं, पुलिस वाले भी उठा रहे हैं सवाल

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button