Crime NewsGiridihJharkhand

केबल नेटवर्क डीडीसी कंपनी के मालिक पर कॉपीराइट और धोखाधड़ी का केस दर्ज

Giridih: केबल नेटवर्क डीडीसी कंपनी के निर्लेप बहरल के खिलाफ डीडी स्पोटर्स चैनल का इस्तेमाल कर गिरिडीह में भारत-आस्ट्रेलिया का क्रिकेट मैच प्रसारण करने के मामले में केस दर्ज हुआ है. ये केस नगर थाना में ठगी और कॉपीराइट एक्ट का उल्लघंन करने के मामले में दर्ज कराया गया है. डीडीसी केबल नेटवर्क के गिरिडीह मालिक के खिलाफ मीडिया सॉफ्ट लीगल साल्यूशन सर्विस प्राईवेट लिमिटेड की एंटी पायरेसी टीम के सहायक प्रबंधक अक्षय खत्री ने गुरुवार को नगर थाना में आवेदन देकर केस दर्ज कराया है. इधर सहायक प्रबंधक अक्षय के दिए आवेदन के आधार पर नगर थाना पुलिस ने थाना कांड संख्या 57/19 दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.  पांच पेज के दिये आवेदन में एंटी पायरेसी टीम के सहायक प्रबंधक खत्री ने डीडीसी केबल नेटवर्क के गिरिडीह मालिक निर्लेप बरहल पर आरोप लगाते हुए कहा है कि डीडी स्पोटर्स एक फ्री टू एयर चैनल है. जबकि डीडी स्पोटर्स का इस्तेमाल कर किसी भी सूरत में कोई भी केबल कंपनी अपने चैनल से प्रसारण नहीं कर सकती है. बावजूद डीडीसी कंपनी ने गिरिडीह में बीतें 27 फरवरी और 2 मार्च को डीडी स्पोटर्स का बॉक्स लगाकर भारत-आस्ट्रेलिया का मैच गिरिडीह में प्रसारण किया है.

इसे भी पढ़ेंः सीसीएल ने वाहनों की जीपीएस आधारित ट्रैकिंग व्यवस्था लागू की, कोयला चोरी रोकने में मिलेगी मदद

स्टार इंडिया प्राईवेट लिमिटेड मुंबई एंटी पायरेसी टीम ने किया हस्तक्षेप

Catalyst IAS
ram janam hospital

थाना को दिए आवेदन में स्टार इंडिया प्राईवेट लिमिटेड मुंबई एंटी पायरेसी टीम के सहायक प्रबंधक अक्षय खत्री ने आरोप लगाते हुए कहा कि डीडीसी केबल नेटवर्क शहर के मकतपुर स्थित जालान धर्मशाला से चलाया जाता है. इसी दौरान इंडिया और आस्ट्रेलिया मैच का प्रसारण जालान धर्मशाला से दो दिनों तक डीडी स्पोटर्स का बॉक्स लगाकर किया गया. जिसकी जानकारी होने के बाद स्टार इंडिया प्राईवेट लिमिटेड के एंटी पायरेसी टीम ने डीडीसी केबल नेटवर्क के खिलाफ धोखाधड़ी और कॉपीराइट एक्ट का उल्लघंन कर दर्शकों के बीच मैच प्रसारण करने पर केस दर्ज कराने का निर्णय लिया है. इधर केबल नेटवर्क के मालिक निर्लेप बरहल पर हुए केस दर्ज के बाद शहर के केबल ऑपरेटरों में चर्चा का विषय है. बतातें चले कि गिरिडीह डीडीसी केबल कंपनी का लाईसेंस निर्लेप बहरल के नाम पर बना हुआ.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इसे भी पढ़ेंः विश्वविद्यालयों में नौकरी के लिए 200 प्वाइंट रोस्टर पर अध्यादेश को मंजूरी

 

Related Articles

Back to top button