Crime NewsJharkhandRanchi

खेलगांव में इंजीनियरिंग की छात्रा ने किया आत्मदाह, तीन साल से थी डिप्रेशन में

  • डेढ़ साल पहले सड़क हादसे में सिर में चोट लगने से और बढ़ गया था डिप्रेशन

Ranchi : खेलगांव इलाके के डुमरदगा में रहनेवाली इंजीनियरिंग की छात्रा नीरू कुमारी (22) ने शरीर पर केरोसीन डालकर आत्मदाह कर लिया. घटना बुधवार की देर रात करीब डेढ़ बजे की है. बताया जा रहा है कि नीरू मानसिक रूप से बीमार चल रही थी. नीरू ओरमांझी स्थित आरटीसी इंजीनियरिंग कॉलेज में फाइनल ईयर की छात्रा थी.

इसे भी पढ़ें:  मुस्लिम परिवार ने मंदिर के रास्ते के लिए भूमि दान की

सड़क हादसे में सिर में लगी थी चोट, बिगड़ गयी थी मानसिक स्थिति

बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ साल पहले हुए सड़क हादसे में नीरू घायल हो गयी थी. उसके सिर पर गंभीर चोट लगी थी. इस चोट के बाद उसकी मानसिक स्थिति बिगड़ गयी थी. रिनपास में उसका इलाज चल रहा था. जानकारी के अनुसार, बुधवार की रात पूरे परिवार के लोग खाना खाकर सोने चले गये थे. रात में अचानक नीरू ने शोर मचाया. शोर सुनकर माता-पिता सहित अन्य परिजन पहुंचे, तो देखा कि नीरू ने खुद पर केरोसीन तेल डालकर आग लगा ली है.

इसे भी पढ़ें:  गिरिडीह में बनी नकली शराब जंगल के रास्ते पहुंचायी जाती थी बिहार, दो गिरफ्तार, कई फरार

अस्पताल पहुंचने से पहले ही हो गयी मौत

परिजनों ने किसी तरह आग बुझायी और उसे अस्पताल ले जाने लगे. हालांकि, अस्पताल के लिए घर से निकलने से पहले ही नीरू की मौत हो गयी. गुरुवार की सुबह घटना की जानकारी मिलने के बाद खेलगांव थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए रिम्स भेज दिया. पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया. मामले में छात्रा के पिता अवधेश प्रसाद के बयान पर खेलगांव थाना में यूडी केस दर्ज किया गया है.

इसे भी पढ़ें:  डीजीपी के आदेश के बाद शराब के अवैध कोरोबार पर कसी जा रही नकेल

तीन साल से थी डिप्रेशन में

नीरू के पिता के अनुसार, पिछले तीन वर्षों से नीरू डिप्रेशन में थी. इधर, सड़क हादसे के बाद डिप्रेशन बढ़ा और मानसिक स्थिति बिगड़ती चली गयी. बुधवार की रात पिता ने उसे दवाई खिलायी थी. इसके बाद वह सोने चली गयी थी. इस बीच उसने आत्मदाह कर लिया.

इसे भी पढ़ें:  मेयर ने विभाग से मांगे 175 करोड़, बोलीं- राजधानी का विकास करना है

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: