न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड के इंजीनियरिंग, मेडिकल कॉलेजों में एनटीए, नीट के जरिए होगा दाखिला, फैसला जल्द

1,734
  • बिहार सरकार ने एनटीए और नीट के नतीजों से दाखिला लेने का लिया निर्णय
  • राज्य भर में 50 हजार से अधिक बच्चे देते हैं इंजीनियरिंग, कृषि की प्रवेश परीक्षा

Ranchi: झारखंड के इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों की प्रवेश परीक्षा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) से कराने पर सरकार जल्द नीतिगत निर्णय लेगी. अभी राज्य के 14 इंजीनियरिंग कॉलेजों, कृषि महाविद्यालय, पशुपालन महाविद्यालय और आयुष की प्रवेश परीक्षा झारखंड संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद (जेसीइसीइ) की तरफ से ली जाती है. वर्ष 2018 के शैक्षणिक सत्र में ही सीबीएसई की तरफ से इंजीनियरिंग और मेडिकल की परीक्षा संचालित करने पर निर्णय लिया जाना था.

प्रत्येक वर्ष मई के अंतिम सप्ताह में झारखंड कंबाइंड की परीक्षा ली जाती है. इसमें राज्य भर के 50 हजार बच्चे शामिल होते हैं. बिहार सरकार की तरफ से एनटीए और सीबीएसइ की नीट से इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा लिए जाने का निर्णय ले लिए जाने से झारखंड सरकार पर भी दवाब बढ़ गया है. बिहार सरकार ने 25 इंजीनियरिंग और कृषि कॉलेजों में दाखिले के लिए एनटीए के जेईई मेंस के आधार पर काउंसिलिंग कराने का फैसला लिया है. इसके अलावा बिहार के मेडिकल कॉलेजों में दाखिला नीट के आधार पर लिया जायेगा.

झारखंड के मेडिकल कॉलेजों में नीट से ही हो रहा दाखिला

झारखंड के रिम्स, पाटलिपुत्र मेडिकल कॉलेज धनबाद और महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज जमशेदपुर में एमबीबीएस के पहले वर्ष का दाखिला नीट के नतीजे के आधार पर ही हो रहा है. सरकार मेडिकल के कुछ विशेष पाठ्यक्रमों के संचालन के लिए नीट से ही परीक्षा लिए जाने पर जल्द फैसला लेगी.

झारखंड कंबाइंड लेता है पॉलिटेक्निक, फॉर्मेसी, नर्सिंग की प्रवेश परीक्षा 

झारखंड कंबाइंड की तरफ से राज्य के 14 पॉलिटेक्निक समेत फॉर्मेसी संस्थान, नर्सिंग की प्रवेश परीक्षा ली जाती है. सभी परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन ऑनलाइन कराया जाता है. फॉर्म भरने से लेकर अन्य सभी तरह की प्रक्रियाएं ऑनलाइन पूरी की जाती है.

कौन-कौन से हैं राज्य में इंजीनियरिंग कॉलेज

राज्य में राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज समेत 10 से अधिक निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए प्रत्येक वर्ष झारखंड कंबाइंड से प्रवेश परीक्षा ली जाती है. इनमें राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज रामगढ़, दुमका और चाईबासा के अलावा बीआइटी सिंदरी प्रमुख हैं.

इसके अलावा निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों में आरवीएस इंजीनियरिंग कालेज जमशेदपुर, नीलय इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी रांची, रामचंद्र चंद्रवंशी इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी गढ़वा, बीए कालेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी जमशेदपुर, रामगोविंद कटारुका इंजीनियरिंग कॉलेज एंड टेक्नोलॉजी कोडरमा, आरटीसी इंजीनियरिंग कॉलेज एंड टेक्नोलॉजी ओरमांझी, कैंब्रिज इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी टाटीसिलवे रांची, मेरीलैंड इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी जमशेदपुर, राय यूनिवर्सिटी झारखंड, साईं नाथ यूनिवर्सिटी, डीएवी ग्रुप कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी पलामू प्रमुख है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: