RanchiTop Story

JBVNL और JUSNL में 500 पदों पर बहाली के लिए ऊर्जा विभाग ने JPSC से मांगी स्वीकृति

विज्ञापन

Ranchi: ऊर्जा विभाग की ओर से बिजली बोर्ड में बहाली के लिये जेपीएससी को अधियाचना भेजी गयी है. अधियाचना पांच सौ पदों के लिये भेजी गयी है. जिसमें झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड और झारखंड ऊर्जा संचरण निगम लिमिटेड के लिये बहाली की जानी है.

जेपीएससी असिस्टेंट इंजीनियर के सभी पदों के लिये बहाली निकालेगी. विभाग की ओर से कुछ महीनों पहले ही इन पदों के लिये जेपीएससी को अधियाचना भेजी दी गयी. नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है. चुनाव के पहले चारों निगम के रिक्त पदों की जानकारी ऊर्जा विकास निगम को दी गयी थी.

इसे भी पढ़ेंःराज्य में कोरोना से 51 साल की महिला ने तोड़ा दम, रिम्स में चल रहा था इलाज

advt

जिसके बाद ऊर्जा विकास की ओर से इन पदों में बहाली के लिये ऊर्जा विभाग को जानकारी दी गयी थी. ऊर्जा विभाग ने कुछ पदों पर सवाल करते हुए विकास निगम को अनुशंसा पत्र वापस किया था. इनमें से पांच सौ पदों की बहाली संबधी अधियाचना जेपीएससी को भेजी गयी.

तीन हजार पदों पर सरकार करेगी नियुक्ति

वर्तमान सरकार ने बिजली बोर्ड के रिक्त लगभग तीन हजार पदों पर नियुक्ति का निर्णय लिया है. हालांकि ऊर्जा विभाग का कहना है कि इस प्रक्रिया में नवंबर तक का समय लगेगा. जिसमें जूनियर इंजीनियर, अकाउंटेंट, लाइनमैन समेत अन्य पद हैं.

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड में कई बार इस मामले में बैठक भी हुई. इसके पूर्व 1145 पदों पर नियुक्ति की अधियाचना ऊर्जा विभाग को दी गयी थी. जिसमें असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के 130, असिस्टेंट इंजीनियर के 20, जूनियर एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के 400 पद, ऑफिस अस्सिटेंट के 346 पद समेत अन्य पदों में बहाली की अनुशंसा की गयी थी.

इसे भी पढ़ेंःअश्वनि मिश्रा, DDC चाईबासा और उनके स्कॉर्पियो कनेक्शन की होगी जांच, आंगनबाड़ी में हो रहे काम की भी जांच का आदेश

adv

बता दें असिस्टेंट इंजीनियर की बहाली ऊर्जा विभाग की अधियाचना पर जेपीएससी करती है. जबकि जूनियर इंजीनियर समेत अन्य पदों पर बहाली जेएसएससी की ओर से की जाती है.

2016 में निकाली गयी थी अंतिम बहाली

बिजली बोर्ड के चारों निगमों में अंतिम बहाली साल 2016 में निकाली गयी. इसमें भी 2006 से संविदा पर कार्यरत कर्मियों को स्थायी किया गया. इस नियुक्ति के बाद भी बोर्ड में कई पद खाली रह गये. साल 2017 के बाद से बिजली बोर्ड में नयी नियुक्ति नहीं हुई है. जबकि सिर्फ ऊर्जा संचरण में 990 इंजीनियरों के पद खाली है.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में 96 पुलिसकर्मी Corona पॉजिटिव, 5 हो चुके हैं स्वस्थ

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button